एटीएम कार्ड से तीन लाख रुपए की ठगी, अभी तक फुटेज नहीं निकलवा पाई पुलिस

एटीएम बंद होने का झांसा देकर दो युवकों ने हासिल किए थे पिन नंबर

पेंड्रा : पेंड्रा के ग्राम कुड़कई निवासी रिटायर्ड एसईसीएल के अफसर का एटीएम कार्ड बदलकर तीन लाख रुपए की ठगी करने के मामले में आठ दिन बाद भी पुलिस आरोपी तक नहीं पहुंच पाई है। बता दें कि खाते से रकम गायब होने के बाद पीड़ित अफसर ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने धोखाधड़ी का अपराध दर्ज कर जांच शुरू करने का भरोसा दिया, लेकिन अभी तक पेंड्रा पुलिस की जांच आगे नहीं बढ़ पाई है।

पेंड्रा पुलिस के अनुसार ग्राम कुड़कई निवासी रामजी राम मौर्य पिता संकठा मौर्य (68) एसईसीएल के रिटायर्ड अफसर हैं। मौर्य 3 अप्रैल की दोपहर एटीएम कार्ड लेकर रकम निकालने पहुंचे थे। एटीएम बूथ से रकम नहीं निकली। इस दौरान बूथ में दो युवक खड़े थे, जिन्होंने मदद करने का झांसा दिया। उन्होंने एटीएम कार्ड लेकर पिन नंबर भी हासिल कर लिया। कुछ देर तक प्रयास करने के बाद युवकों ने उन्हें एटीएम में खराबी का बहाना बताकर कार्ड लौटा दिया।

हड़बड़ी में उन्होंने कार्ड पर ध्यान नहीं दिया। फिर एटीएम कार्ड लेकर दूसरे काम के लिए रवाना हो गए। दो-चार दिन बाद वह फिर बैंक पहुंचे और खाते की जांच की, तब उन्हें पता चला कि उनके खाते से 3 लाख रुपए से अधिक रकम आहरण कर लिया गया है खाते से इतनी बड़ी रकम गायब देखकर उनके होश उड़ गए। उन्होंने जानकारी मांगी तो आॅनलाइन व एटीएम से रकम निकालने की बात सामने आई। बैंक से पूरी डिटेल निकलवाने के बाद उन्होंने पुलिस से शिकायत की। उनकी शिकायत पर पुलिस ने धारा 420 के तहत धोखाधड़ी का अपराध दर्ज कर लिया है।
पुलिस द्वारा अब तक एटीएम फुटेज तक नहीं निकाला जा सका। पीड़ित ने उच्च अधिकारियों से तत्काल जांच कर आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की है।

Back to top button