कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले में तीन और मददगारों की हुई गिरफ्तारी

इन्होंने हत्यारोपियों को छिपाने और भगाने में मदद की

बरेली/लखीमपुर: लखनऊ के नाका थाना क्षेत्र इलाके में हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी पर गोलियां दागकर हत्या करने के आरोप में तीन और मददगारों को गिरफ्तार किया है.

मदद करने वाले बरेली के वकील मो. नावेद और लखीमपुर के पलिया निवासी रईस और आसिफ को पूछताछ के बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. तीनों पर आरोप है कि इन्होंने हत्यारोपियों को छिपाने और भगाने में मदद की.

पुलिस के मुताबिक, नावेद ने हत्या के दोनों आरोपियों अशफाक और मोइनुद्दीन को बरेली में दरगाह में रुकवाने से नेपाल बार्डर तक पहुंचाने में मदद की थी. रईस और आसिफ ने नावेद के ही कहने पर दोनों को 10 हजार रुपये की मदद की थी.

इससे पहले बरेली के दरगाह आला हजरत के मौलाना सैय्यद कैफी को एटीएस ने पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया था तो अबतक कमलेश तिवारी हत्याकांड को अंजाम देने वाले दोनों आरोपियों की मदद करने के आरोप में 4 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. यूपी पुलिस और ATS और भी संदिग्ध की तलाश में लगातार जुटी हुई है. इस मामले में कई और मददगार बेनकाब हो सकते हैं.

Back to top button