इस बार मोदी सरकार देगी ये न्यू ईयर गिफ्ट, देशवासियों को होगा फायदा

सरकार की तरफ से मिलने वाले इन सुविधाओं से आपकी जिंदगी पहले से ज्यादा आसान हो जाएगी

इस बार मोदी सरकार देगी ये न्यू ईयर गिफ्ट, देशवासियों को होगा फायदा

साल 2017 खत्म होने में चंद दिन बाकी रह गए हैं और 2018 आने वाला है. नए साल में कई चीजें बदल जाएंगी. सरकार ने कई नियमों को नए साल से लागू करने का ऐलान किया है. ऐसे में आपको यह जानना जरूरी है कि नए साल पर सरकार आपको क्या तोहफे देने जा रही है. सरकार ने देश में 1 जनवरी 2018 से कुछ नए नियम लागू करने का फैसला किया है, इसका सीधा फायदा आपको मिलेगा. आगे पढ़िए इस न्यू ईयर आपको सरकार की तरफ से क्या तोहफे मिलने वाले हैं. सरकार की तरफ से मिलने वाले इन सुविधाओं से आपकी जिंदगी पहले से ज्यादा आसान हो जाएगी.

डेबिट कार्ड से खरीदारी करना सस्ता होगा
सरकार डिजीटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा दे रही है. ऐसे में नए साल से यदि आप 1 जनवरी 2018 से डेबिट कार्ड से भुगतान करते हैं तो आरबीआई की तरफ से जारी नए एमडीआर चार्ज लागू होंगे. यानी डेबिट कार्ड से ट्रांजेक्शन करना पहले से सस्ता हो जाएगा. आरबीआई ने पिछले दिनों मर्चेंट डिस्काउंट रेट (MDR) की दर में कटौती की है. गौरतलब है कि MDR वह चार्ज है जो डेबिट कार्ड से भुगतान करने पर दुकानदार पर लगता है. हालांकि यह ग्राहक को नहीं देना होता है लेकिन कुछ दुकानदार ग्राहक से ही इस चार्ज को वसूल करते हैं. अभी यह दो फीसदी है.

हाल ही में जारी किए गए आरबीआई के नए नियम के मुताबिक 20 लाख रुपए तक का सालाना टर्नओवर करने वालों के लिए MDR चार्ज 0.40 प्रतिशत तय किया गया है. 20 लाख से ज्यादा के टर्नओवर पर 0.9 फीसदी का एमडीआर चार्ज होगा. 20 लाख तक के टर्नओवार वालों के लिए हर ट्रांजेक्शन पर MDR 200 रुपए से ज्यादा नहीं होगा. यानी यदि 20 लाख से कम के किसी ट्रांजेक्शन पर 0.40 फीसदी की दर एमडीआर 215 रुपए हुआ तो दुकानदार को 200 रुपए का ही भुगतान करना पड़ेगा.

इसी तरह 20 लाख रुपए से अधिक टर्नओवर वाले दुकानदार के लिए MDR प्रति ट्रांजेक्शन 1,000 रुपए से ज्यादा नहीं होगा. यदि आप 2000 रुपए या इससे कम की शॉपिंग डेबिट कार्ड के माध्यम से करते हैं तो सरकार इस ट्रांजेक्शन पर लगने वाले एमडीआर को खुद ही वहन करेगी.

घर बैठे मोबाइल नंबर की आधार से लिंकिंग
सरकार की तरफ से पिछले दिनों ऐलान किया था कि 1 जनवरी 2018 से आप घर बैठे अपना मोबाइल नंबर आधार से लिंक करा सकते हैं. अब यह सुविधा शुरू हो जाएगी. पहले इस सुविधा को 1 दिसंबर से शुरू किया जाना था लेकिन टेलीकॉम कंपनियों की अधूरी तैयारियों के कारण यह सुविधा शुरू नहीं हो सकी. इस कारण इसे एक महीने आगे बढ़ाना पड़ा. अब आप 31 मार्च 2018 तक अपने सिम को आधार से लिंक करा सकते हैं. इसके तहत आप ओटीपी के माध्यम से मोबाइल नंबर को आधार से लिंक कर सकते हैं.

गोल्ड ज्वेलरी पर हॉलमार्किंग जरूरी
सरकार की तरफ से 1 जनवरी 2018 से 14 कैरेट, 18 कैरेट और 22 कैरेट ज्;वेलरी की हॉलमार्किंग जरूरी करने की उम्मीद की जा रही है. यदि ऐसा हुआ तो ग्राहकों को गोल्ड ज्वेलरी की शुद्धता को लेकर चिंता नहीं करनी होगी. आपको बता दें कि वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल (डब्ल्यूजीसी) हालमार्किंग को अनिवार्य करना चाहती है. इसके लिए उसने ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड्स (बीआईएस) को सिफारिशें भी भेजी हैं. हॉलमार्किंग की इस प्रक्रिया को तीन चरणों में अनिवार्य किया जाएगा. पहले चरण में 22 शहरों में हॉलमार्किंग अनिवार्य की जाएगी. इन शहरों में मुंबई, नई दिल्ली, नागपुर, पटना शामिल हैं. दूसरे चरण में 700 शहर और अंतिम चरण में देश के बाकी शहरों में इसे लागू किया जाएगा.

advt
Back to top button