राष्ट्रीय

ठुमरी की रानी गिरिजा देवी नहीं रहीं

ठुमरी गाने के लिए मशहूर गिरिजा देवी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. पिछले कुछ दिनों से वे बीमार चल रही थीं. उन्हें कोलकाता के बीएम बिड़ला नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था. मंगलवार 24 अक्टूबर रात 9 बजे दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत हो गई. गिरिजा देवी 88 साल की थी. गिरिजा देवी बनारस घराने की शास्त्रीय गायिका थीं. शास्त्रीय संगीत के साथ ही उन्हें ठुमरी गाने में भी महारथ हासिल थी. अपनी इसी खासियत की वजह से उन्हें ठुमरी की रानी कहा जाता है. गिरिजा देवी को 1972 में पद्म श्री अवॉर्ड मिला था. 1989 में उन्हें पद्म भूषण और 2016 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया. साजन मिश्रा ने कहा, ‘गिरिजा देवी के साथ ही एक युग का अंत हो गया, लेकिन उनकी गायिकी जिंदा रहेगी. बहुत बुरी खबर है. भगवान उनकी आत्मा को शांति दें.’

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *