बच्चों को स्वस्थ रखने के लिए गर्मियों में करें कुछ इस तरह देखभाल

गर्मी में हर किसी को शरीर से जुड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

इतनी गर्मी में बड़ों का इतना बुरा हाल हो जाता है तो सोचो छोटे बच्चों का क्या हाल होता होगा। जैसे ही गर्मी बढ़ती जाती है वैसे छोटे बच्चों की परेशानियां बढ़ने लगती है। वे बीमार पड़ने लगते हैं और उन्हें कई तरह की परेशानियां झेलनी पड़ती है।

अगर आप चाहते हैं कि आपको बच्चों को किसी तरह की मुश्किल न हो तो आप उसकी कुछ इस तरह से देखभाल करें। आज हम आपको बच्चों की केयर के लिए ऐसे टिप्स बताएंगे, जिसे इस्तेमाल करके आप अपने बच्चों को गर्मियों में होने वाली परेशानियों से बचा सकेंगे।

 

1. साफ सफाई

बच्चे को स्वस्थ रखने के लिए सबसे पहले जरूरी बात है साफ-सफाई। बच्चे के आस-पास किसी तरह की गंदी चीजों को न रखें। उसके आसपास की साफ सफाई का खास ख्याल रखें। उसे समय पर नहलाएं। उसे पसीना आने पर साफ करते रहें। उसके शरीर को ठंड देने के लिए कॉटन के गीले कपड़े से उसे साफ करें। खास करके उसके हाथों का बार साफ पानी से साफ करें क्योंकि छोटे बच्चों को हाथ मुंह में डालने की आदत होती है।

2. बच्चों के कपड़े

गर्मियों में खास करके बच्चे को आरामदायक और ढीले सूती के कपड़े पहनाएं। इससे उसे गर्मी भी कम लगेंगी और उसे सांस लेने में भी कोई तकलीफ नहीं होगी। सूती कपड़े पसीने को भी आसानी से सोखते हैं और ज्यादा देर गीले भी नहीं रहते। सिल्की कपड़े ज्यादा देर गीले रहने पर स्किन पर रैशेज और घमौरियां होने लगती है।

3. बच्चे का डाइट प्लान

जब शिशु केवल दूध पर ही निर्भर है तो उसे पानी न पिलाएं। आप उसे थोड़ी-थोड़ी देर बाद दूध पीला सकती है ताकि उसे प्यास ना लगे। इस दौरान आपको भी अपने भोजन का खास ख्याल रखना चाहिए क्योंकि मां के आहार में अंतर होने पर भी बच्चे का पेट खराब हो सकता है। अगर आपका बच्चा थोड़ा बड़ा है तो आप उसे खाने के लिए हल्की चीजें जैसे दाल का पानी, कोई शेक थोड़ा-थोड़ा दे सकते हैं।

4. नैपी का सही चुनाव

बच्चों के लिए कॉटन की नैपी इस्तेमाल करेें। गीला होने पर उसे बदल दें क्योंकि ज्यादा देर नैपी न बदलने पर भी शिशु की स्किन पर रैशेज पड़ सकते हैं। नैपी पहनाने से पहले बच्चे को बेबी पाउडर जरूर लगाएं।

5. घर का वातावरण

अगर बाहर ठंडी हवा हो तो घर के खिड़की-दरवाजे खुले रखें लेकिन बाहर गर्म हवा और लू चल रही हो तो खिड़कियों को बंद ही रखें। घर में कूलर या मध्यम एसी से रूम को ठंडा करें। बच्चे को मच्छरो से बचाने के लिए उचित इंतजाम करें।<>

advt
Back to top button