लॉकडाउन सफल हो, इसके लिए प्रदेश सरकार पी डी एस राशन आपूर्ति, टेस्टिंग व इलाज के लिए पर्याप्त इंतज़ाम पर ध्यान दे : भाजपा

आंदोलनरत इन स्वास्थ्य कर्मचारियों को प्रदेश सरकार वेतन के बजाय इस कोरोना काल में बर्ख़ास्तगी का फरमान दे रही है।

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने प्रदेश के विभिन्न ज़िलों में चल रहे लॉकडाउन की सफलता सुनिश्चित करने पर प्रदेश सरकार को ध्यान देने कहा है। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश सरकार यह देखे कि पीडीएस का राशन ग़रीब व ज़रूरतमंद परिवारों तक पहुँचा कि नहीं? इसी प्रकार कोरोना की टेस्टिंग व इलाज के लिए मरीजों को अस्पताल तक पहुँचाने के इंतज़ाम पर ध्यान दे। श्री श्रीवास्तव ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा प्रदेश कांग्रेस व विधायकों-सांसदों की बैठक रखने पर तंज कसने के साथ ही कृषि बिल के ख़िलाफ़ आगामी 25 सितंबर को प्रदर्शन की अनुमति दिए जाने पर भी कड़ा ऐतराज़ जताया है।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्री श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा राजधानी समेत प्रदेश के कई ज़िलों में पूर्ण व सख़्त लॉकडाउन की घोषणा करने के साथ ही यह सुनिश्चित करना ज़रूरी है कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली का राशन ग़रीब व ज़रूरतमंद परिवारों तक पहुँच गया है या नहीं? इसी प्रकार कोरोना की टेस्टिंग और इलाज के लिए मरीजों को लैब व अस्पताल व घरों तक पहुँचाने की पुख़्ता व्यवस्था पर ज़ोर देते हुए श्री श्रीवास्तव ने कहा राजधानी के एक व्यक्ति ने बाइक से अपनी कोरोना संक्रमित पत्नी को लेकर जाते हुए पुलिस पूछताछ में बताया कि उसकी कोरोना संक्रमित पत्नी के इलाज के लिए दो दिन से लगातार फोन करने के बावज़ूद न तो अस्पताल से एम्बुलेंस आई और न ही कोई पूछने आया, तो अब वह क्या करे?
भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्री श्रीवास्तव ने कहा कि लॉकडाउन के चलते सख़्त पाबंदियों के चलते टेस्टिंग के लिए लोग घरों से निकल नहीं रहे हैं जिससे पॉज़ीटिव मरीजों का समय पर इलाज संभव नहीं हो पाएगा।

क्या सरकार ऐसा करके कोरोना संक्रमितों के आँकड़ों को कम दर्शाकर प्रदेश की आँखों में धूल झोंकने की एक नई कवायद कर रही है? श्री श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदेश सरकार ने संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों के प्रति अन्यायपूर्ण कार्रवाई करके अपनी संवेदनहीनता का परिचय दिया है। आंदोलनरत इन स्वास्थ्य कर्मचारियों को प्रदेश सरकार वेतन के बजाय इस कोरोना काल में बर्ख़ास्तगी का फरमान दे रही है।

इस आंदोलन से कोरोना मामलों की जाँच और उपचार की व्यवस्था चरमरा रही है।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्री श्रीवास्तव ने मुख्यमंत्री बघेल द्वारा बुधवार को प्रदेश कांग्रेस विधायकों-सांसदों की बैठक बुलाने पर तंज कसा कि मुख्यमंत्री बघेल ‘परिवार-दरबार’ को ख़ुश करने और अपना नंबर बढ़ाने में मशगूल हैं, लेकिन कोरोना की भयावह स्थिति पर चर्चा करने के लिए वे बैठक नहीं बुला रहे हैं। इस बैठक से स्पष्ट है कि प्रदेश सरकार केवल ‘परिवार-दरबार’ के प्रति ही ज़वाबदेह है।

श्री श्रीवास्तव ने कटाक्ष किया कि प्रदेश में कोरोना मामलों का आँकड़ा 90 हज़ार पार हो चुका है और मुख्यमंत्री बघेल कोरोना संक्रमितों की संख्या के मामले में बहुत ज़ल्दी लखपति बनने जा रहे हैं। श्री श्रीवास्तव ने 25 सितम्बर को कांग्रेस को प्रदर्शन की अनुमति दिए जाने पर भी तीखा हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश सरकार अपने न्यस्त राजनीतिक स्वार्थ साधने के लिए कोरोना प्रोटोकॉल के साथ ही अपने ही बनाए नियमों का उल्लंघन कर रही है।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button