महिलाओं को स्वावलंबी व स्किल्ड बनाने आय मूलक गतिविधियों से जोड़े-कलेक्टर भीम सिंह

कलेक्टर भीम सिंह कल कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आजीविका मूलक कार्यों से जुड़े विभागों की समीक्षा बैठक ली।

रायगढ़, 4 अप्रैल2021 : कलेक्टर भीम सिंह कल कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आजीविका मूलक कार्यों से जुड़े विभागों की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने कहा कि समूह के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा महिलाओं को विभिन्न आय मूलक गतिविधियों से जोड़े ताकि वे स्किल्ड हों और स्वावलंबी बने।

कलेक्टर सिंह ने जिले के प्रत्येक विकासखण्ड के विभिन्न गौठानों में बनाये जा रहे मल्टी एक्टिविटी सेंटर में चिन्हांकित गतिविधियों की जानकारी ली। विकासखण्डवार कार्यक्रम अधिकारियों ने गौठानों में की जा रही आजीविका मूलक गतिविधियों की जानकारी दी। उन्होंने समूहों के कार्य को व्यवस्थित करने तथा स्व-सहायता समूहों को आर्थिक रूप से ज्यादा फायदेमंद गतिविधियों को प्राथमिकता देने के निर्देश दिये।

चिन्हांकित गतिविधियों से जुड़ी ट्रेनिंग देने तथा संसाधन की व्यवस्था करने के निर्देश दिये। उन्होंने गोठानों को इंडस्ट्रीज से टाईअप करने को कहा। जिससे वहां से तैयार उत्पाद के लिए स्थानीय स्तर पर एक बाजार तैयार हो। कलेक्टर सिंह ने घरघोड़ा में एनटीपीसी तलाईपाली के माध्यम से महिलाओं को ट्रेनिंग दिलवाने के निर्देश दिए। जिससे महिलायें उद्योग श्रमिकों की ड्रेस सिलाई का कार्य कर सके।

वन अधिकार पत्र प्राप्त हितग्राहियों को करें लाभान्वित

उन्होंने वित्तीय वर्ष 2019-20 एवं उससे पूर्व तथा 2020-21 के कुल वन अधिकार पट्टा हितग्राहियों के मनरेगा अंतर्गत किये कार्यों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि वन अधिकार पत्र प्राप्त हितग्राहियों को अधिक से अधिक मनरेगा से स्वीकृत किये जा सकने वाले कार्यों के माध्यम से लाभान्वित करना है। जिससे वे आजीविका मूलक गतिविधियों से जुड़ सके।

उन्होंने जनपद पंचायतवार बने वनधन केन्द्रों तथा वहां संचालित एक्टिविटी की जानकारी ली। सभी वन धन केन्द्रों में पानी, बिजली, शौचालय की व्यवस्था बनाये रखने के निर्देश दिये। उन्होंने संबंधित विभागों को वित्तीय वर्ष की उपलब्धि एवं आने वाले वर्षो में क्या लक्ष्य है उसकी कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिये। कलेक्टर सिंह ने रेशम विभाग में हो रहे कार्यों की जानकारी ली। इस मौके पर उप संचालक रेशम कंवर ने जानकारी दी कि 160 हेक्टेयर में अर्जून, साजा के पौधे तैयार किये जा रहे है। जिसमें 6 लाख 56 हजार पौधे लगाये जायेंगे। उन्होंने बताया कि वर्तमान में 7 लाख 80 हजार पौधे तैयार है।

जिले में ही करना है आंगनबाड़ी केन्द्रों में सप्लाई के लिये अंडे का उत्पादन

इसके साथ ही कलेक्टर सिंह ने पशुपालन विभाग के कार्यों के चर्चा के दौरान जिले में मुर्गी पालन को बढ़ावा देकर अंडे के उत्पादन को बढ़ाने के निर्देश दिए जिससे कि जिले के आंगनबाड़ी केन्द्रों में सप्लाई किये जाने वाले अंडों का उत्पादन जिले में ही हो। उन्होंने विभागीय योजनाओं के माध्यम से मछली पालन के कार्य में वृद्धि लाने के निर्देश दिए। सामुदायिक बाड़ी विकास तथा पड़ती भूमि पर खेती के कार्यों को भी व्यापक स्तर पर करने के लिए कहा। जिससे लोगों की आय में वृद्धि हो।

पुराना गोबर बाहर नहीं रखें

कलेक्टर सिंह ने गोधन न्याय योजना से जुड़ी गतिविधियों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि किन-किन गोठानों में गोबर खरीदी हो रही है या नहीं उसकी सूची जारी करें। हर महीने की 10 तारीख तक गोठानों में जो भी शिकायतें है उसे प्रस्तुत करें। उन्होंने ग्रामीण सहित शहरी इलाकों में आज से एक महीना पुराना गोबर बाहर नहीं रखने के निर्देश दिये। उन्होंने वर्मी पिट स्थिति की भी जानकारी ली।

इस मौके पर जिला पंचायत सीईओ श्री रवि मित्तल, डीएफओ रायगढ़ प्रणय मिश्रा, डीएफओ धरमजयगढ़ मणिवासगन एस, जनपद सीईओ सहित संबंधित विभागों के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button