छत्तीसगढ़

स्वयं का होटल खोलने के लिए इतनी बड़ी रकम पर किया था हाथ साफ, हुए गिरफ्तार

अंकित मिंज

बिलासपुर।

हरियाणा से छत्तीसगढ़ धान मिसाई का काम करने आये हार्वेस्टर संचालक के कमरे से दिन दहाड़े 5 लाख रुपए की चोरी हो गई थी। जिसकी सूचना प्रार्थी ने कोनी थाने में लिखाई थी। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। उनके पास चोरी किए गए मोबाइल व नगद रुपए बरामद कर लिया है।

जानकारी के अनुसार प्रार्थी सुखवंत सिंह पिता बलदेव सिंह (45) सिवन थाना सिवन जिला कैथल हरियाणा का रहने वाला है तथा हार्वेस्टर चलाने का काम करता है। वर्तमान में हरियाणा से हार्वेस्टर चलाने छत्तीसगढ़ आया है तथा मोपका बाईपास में सीजी 10 ढाबा के पास ग्राम बिरकोना के राजेश श्रीवास के प्लांट में किराए का मकान लेकर अपने साथियों के साथ रहता है।

वह अपने पुराने हार्वेस्टर को सीपत क्षेत्र के नवागांव निवासी पितांबर कुर्मी को पंद्रह दिन पहले 15 लाख रुपए में बेचा था। सौदा तय होने के बाद पितांबर ने उसे एडवांस में 5 लाख रुपए नगद दिया था। जिसे प्रार्थी बैग में भरकर अपने किराए के मकान में रखा हुआ था।

एक दिसंबर को जीप खराब हो जाने के कारण वह अपने साथियों के साथ उसने बनवाने चला गया था। जब वापस लौटे तो अज्ञात चोर मकान के पीछे का खिड़की में लगे लोहे के ग्रिल एवं जाली तोड़कर मकान में रखे नगदी 4 लाख 64 हजार तथा एक मोबाइल व पावर बैंक चोरी कर लिया था। जिसकी सूचना प्रार्थी ने कोनी थाने में दर्ज कराई।

पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि घटना के दो दिन पूर्व सीजी 10 ढाबा में वेटर का कार्य करने वाले युवक घटनास्थल के पास गांजा पीते हुए दिखे थे। पुलिस ने बनवारी उर्फ कृष्णचंद्र यादव पिता लतेल राम यादव (21) स्कूल चौक बैगा निवासी व शैलेन्द्र रजक उर्फ मोन्टू पिता सुखचंद्र रजक (22) निवासी चौहानपारा से कड़ाई से पूछताछ किया तो उन्होंने अपना अपराध कबूल कर लिया। पुलिस ने आरोपियों से चोरी किए गए नगद सहित मोबाइल, पावरबैंक और चोरी की प्रयुक्त बाईक जब्त कर ली है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
स्वयं का होटल खोलने के लिए इतनी बड़ी रकम पर किया था हाथ साफ, हुए गिरफ्तार
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags