साहूकारों से बचाने के लिए हमने बैंक के दरवाजे खोले : मोदी

नई दिल्ली ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को हरियाणा के सांपला में सर छोटूराम की 64 फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण किया. पीएम की इस रैली को मिशन 2019 की शुरुआत के तौर पर देखा जा रहा है. 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले भी पीएम ने हरियाणा से ही अपने चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत की थी.

यहां आयोजित जनसभा में छोटूराम के याद करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि उनका कद और व्यक्तित्व इतना बड़ा था कि सरदार पटेल ने छोटूराम के बारे में कहा था कि आज चौधरी छोटूराम जीवित होते तो पंजाब की चिंता हमें नहीं करनी पड़ती, छोटूराम जी संभाल लेते.

पीएम ने कहा कि आयुष्मान भारत की पहली लाभार्थी हरियाणा की बेटी है. उन्होंने कहा कि हरियाणा देश में तेजी से बढ़ रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि छोटूराम जैसी महान शख्सियत को एक दिशा में सीमित नहीं रखना चाहिए. हमारी सरकार ऐसे शख्स का मान बढ़ाने का काम कर रही है. उन्होंने कहा कि किसानों के लिए हमने एमएसपी बढ़ाने का काम किया है. धान, मक्के सूरजमुखी जैसी फसलों के लिए हमने एमएसपी दोगुना करने का काम किया. किसान इसे लेकर काफी समय से मांग कर रही थी.

पीएम ने कहा कि किसानों को साहूकारों से कर्ज न लेना पड़ा इसके लिए हमने बैंक के दरवाजे खोलने काम किया हैं. किसानों के हक में हमारी सरकार निरंतर काम कर रही है. सोनीपात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेल कोच रिपेयर फैक्ट्री का शिलान्यास भी किया. यहां उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत हरियाणवी भाषा में की और कहा कि देश की सेवा में सबसे ज्यादा, देश की सुरक्षा में सबसे ज्यादा, खेल में देश का नाम रौशन करने वालों में सबसे ज्यादा हरियाणा की धरती को नमन करता हूं.

पीएम मोदी ने कहा कि सर छोटूराम का किसान और देश में काफी अहम योगदान है. आज ही एक आधुनिक रेल कोच कारखाने का शिलान्यास भी हुआ है, इससे छोटूराम की आत्मा को कितनी खुशी मिल रही होगी. उन्होंने कहा कि 500 करोड़ रुपये के लागत से फैक्ट्री बनेगी. इससे हरियाणा के औद्योगिक विकास को नई बुलंदी मिलेगी.

उन्होंने इतना ही नहीं हरियाणा के छोटे मोटे कारोबारियों और रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे. इससे यहां के इंजीनियरिंग और टेक्नीशियन इससे विशेष योग्यता हासिल करेंगे.

उन्होंने कहा कि हरियाणा का कोई ऐसा गांव नहीं है, जहां का कोई न कोई शख्स सेना से न जुड़ा हो. ये काम सर छोटेराम की प्रेरणा की वजह से हो सका है. उन्होंने कहा कि छोटूराम की भव्य मूर्ति के अनावरण करने का सौभाग्य मिला. इसी महीने के आखिरी में हमें किसानों के मसीहा सरदार वल्लभ भाई पटेल की दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति के अनावरण करने का सौभाग्य प्राप्त हो रहा है. दोनों महापुरुषों में समानता है कि दोनों नेता किसानों के हक में बहुत काम किया.

पीएम मोदी का मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने पुष्प भेंट करके स्वागत किया तो वहीं केंद्रीय मंत्री चौधरी बिरेंद्र सिंह ने पगड़ी बांधकर स्वागत किया. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि सर छोटेराम गरीब, किसान मजलूमों के लिए बहुत काम किया है. उन्होंने सामाजिक सुधार की दिशा में कई कदम उठाए है. खट्टर ने किसानों के फसल में एमएसपी बढ़ाए जाने का जिक्र किया.

आपको बता दें कि सर छोटूराम को हरियाणा में किसान-मजदूरों के मसीहा के रूप में देखा जाता है. सर छोटूराम का जन्म 24 नवंबर, 1881 में रोहतक के सांपला में हुआ था.

प्रथम विश्वयुद्ध के समय में चौधरी छोटूराम ने रोहतक से 22 हजार से अधिक जाट सैनिकों की भर्ती करवाई थी. छोटूराम ने एक अंग्रेजी समाचार पत्र सहित कई का संपादन एवं संचालन भी किया था.

Back to top button