राष्ट्रीय

आज कृषि कानून के खिलाफ एक दिन की भूख हड़ताल करेंगे किसान

मन की बात के दौरान थाली पीटने की अपील

नई दिल्ली: आज कृषि कानून के खिलाफ किसान एक दिन की भूख हड़ताल करेंगे. स्वराज अभियान के नेता योगेंद्र यादव ने कहा है कि 21 दिसंबर को कृषि कानूनों के खिलाफ सभी धरना स्थलों पर किसान 24 घंटे का उपवास शुरू करेंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मासिक रेडियो कार्यक्रम मन की बात का 27 दिसंबर को प्रसारण होना है. भारतीय किसान यूनियन के नेता जगजीत सिंह डलेवाला ने अपील की है कि प्रधानमंत्री के इस कार्यक्रम के दौरान पूरे समय थाली पीटते रहें.

वहीं, भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के नेता जगजीत सिंह डलेवाला ने भी हरियाणा के किसानों को लेकर नया ऐलान किया है. उन्होंने कहा है कि हरियाणा के किसान 21 दिसंबर को भूख हड़ताल करेंगे. 25 से 27 दिसंबर तक हरियाणा के किसान नाकों पर टोल नहीं देंगे.

राकेश टिकैत की अपील किसानों के आंदोलन के बीच पड़ रहे किसान दिवस को लेकर किसान नेता राकेश टिकैत ने अपील की है. टिकैत ने कहा कि 23 दिसंबर को कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन को देखते हुए लंच न बनाएं.

बेनीवाल ने बढ़ाई टेंशन केंद्र की सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता लगातार विपक्ष पर यह आरोप लगा रहे हैं कि विपक्षी दल किसानों को भड़काने की कोशिश कर रहे हैं. विपक्ष तो विपक्ष, टेंशन बढ़ाने में बीजेपी के सहयोगी दल भी कम नहीं. एनडीए में शामिल राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) के अध्यक्ष हनुमान प्रसाद बेनीवाल ने भी दो लाख किसानों के साथ दिल्ली कूच करने का ऐलान कर सरकार की टेंशन बढ़ा दी है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button