बिज़नेस

आज अच्छी तेजी के साथ खुल सकता है भारतीय शेयर बाजार, जाने वजह

आज वायदा बाजार की वीकली एक्सपायरी भी

नई दिल्ली: इंडेक्स सेंसेक्स और निफ्टी बुधवार को बढ़ोतरी के साथ हरे निशान में बंद हुए. वहीँ आज गुरुवार को एशियाई बाजारों में SGX Nifty की शुरुआत शानदार हुई है, ये 100 अंकों से ज्यादा की मजबूती दिखा रहा है.

अमेरिकी वायदा बाजारों में भी जबर्दस्त तेजी का रुख है. Dow Futures 200 अंकों की मजबूती के साथ 27850 के ऊपर कारोबार कर रहा है. Nasdaq Futures में भी 55 अंकों से ज्यादा की तेजी है, ये 11460 के ऊपर ट्रेड कर रहा है.

एशियाई बाजारों में जापान का निक्केई हल्की सुस्ती के साथ कारोबार करता दिख रहा है. हांगकांग, चीन, ताइवान और साउथ कोरिया के बाजार आज बंद हैं. तकनीकी दिक्कतों के चलते टोक्यो स्टॉक एक्सचेंज में ट्रेडिंग रोकी गई है.

विदेशी बाजारों से संकेत

अमेरिका में नए आर्थिक राहत पैकेज को लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है. नए स्टिमुलस प्लान पर सहमति नहीं बनने की वजह से इसमें वोटिंग में देरी हो रही है. ऐसा लगता है कि इस पैकेज को लेकर अभी आगे और बातचीत होगी. अमेरिका में बैंकों पर डिविडेंड और बायबैक पर लगाई रोक जारी रहेगी. इसके अलावा American Airlines (AAL) ने 19000 लोगों को अस्थायी रूप से काम से निकाल दिया है.

सितंबर US बाजारों के लिए मार्च के बाद गिरावट का पहला महीना है. सितंबर में डाओ जोंस 2.3 परसेंट, S&P 500 करीब 4 परसेंट और नैस्डेक 5.2 परसेंट गिरा है. सोने के लिए भी सितंबर का महीना 4 साल में सबसे खराब साबित हुआ है. इसके अलावा अमेरिकी भंडार गिरने से कच्चे तेल को सहारा मिला है.

आज की स्ट्रैटिजी

हमारे सहयोगी चैनल ज़ी बिज़नेस के मैनेजिंग एडिटर अनिल सिंघवी के मुताबिक आज भारतीय बाजारों के लिए बेहतरीन संकेत हैं, बाजारों में आज दमदार तेजी देखने को मिलेगी. निफ्टी 11300 के ऊपर खुल सकता है, फिर इसके ऊपर भी जा सकता है. निफ्टी बैंक में भी आज मजबूती देखने को मिल सकती है. दो दमदार IPO भी लिस्टिंग के लिए तैयार हैं, तो आज बाजार में पूरा एक्शन देखने को मिलेगा.

अनिल सिंघवी के मुताबिक ‘निफ्टी के लिए आज सपोर्ट रेंज 11150-11225 और ऊपरी रेंज 11350-11450 होगी, जबकि बैंक निफ्टी के लिए सपोर्ट रेंज 21150-21275 और ऊपरी रेंज 21800-21950 होगी’

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button