धर्म/अध्यात्म

आज बन रहा मंगल प्रदोष का शुभ योग, शिव को करे ऐसे प्रसन्न

आज 4 दिसंबर, मंगलवार अगहन मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि है। इस दिन भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए प्रदोष व्रत किया जाता है। ये व्रत मंगलवार को होने से मंगल प्रदोष का शुभ योग बन रहा है।

इस बार मंगलवार को इस विधि से करें शिवजी की पूजा.

व्रत और पूजा की विधि

प्रदोष में बिना कुछ खाए व्रत रखने का विधान है। ऐसा करना संभव न हो तो एक समय फल खा सकते हैं। इस दिन सुबह स्नान करने के बाद भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए।

भगवान शिव- पार्वती और नंदी को पंचामृत व गंगाजल से स्नान कराकर बिल्व पत्र, गंध, चावल, फूल, धूप, दीप, नैवेद्य (भोग), फल, पान, सुपारी, लौंग और इलायची चढ़ाएं।

शाम के समय फिर से स्नान करके इसी तरह शिवजी की पूजा करें। भगवान शिव को घी और शक्कर मिले जौ के सत्तू का भोग लगाएं। आठ दीपक आठ दिशाओं में जलाएं। इसके बाद शिवजी की आरती करें।

रात में जागरण करें और शिवजी के मंत्रों का जाप करें। इस तरह व्रत व पूजा करने से व्रती (व्रत करने वाला) की हर इच्छा पूरी हो सकती है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
आज बन रहा मंगल प्रदोष का शुभ योग, शिव को करे ऐसे प्रसन्न
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags