राष्ट्रीय

आज गुजरात के कच्छ का दौरा करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

यहां अलग-अलग तीन परियोजनाओं का भूमि पूजन करेंगे नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक दिवसीय दौरे पर गुजरात के कच्छ जा रहे हैं. जहां प्रधानमंत्री धोरडो में कई विकास परियोजनाओं का शिलान्यास करने के साथ कच्छ के कृषक समुदाय से संवाद करेंगे.

प्रधानमंत्री विश्व के सबसे बड़े रिन्यूएबल सोलर प्रोजेक्ट का भी भूमि पूजन करेंगे. प्रधानमंत्री कच्छ के मांडवी में लगने वाले डिसेलिनेशन प्लांट का भी भूमि पूजन करेंगे. दोपहर करीब 12.30 बजे प्रधानमंत्री कच्छ पहुंचेंगे, जहां से वह सफेद रण आएंगे.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी डिजिटल माध्यम के जरिए खावड़ा में सबसे बड़े रिन्यूएबल सोलर प्रोजेक्ट और डिसेलिनेशन प्लांट का भूमि पूजन करेंगे. प्रधानमंत्री कच्छ के सफेद रण में सनसेट भी देखेंगे, साथ ही यहां आयोजित किए गए सांस्कृति कार्यक्रम का भी आनंद उठाएंगे. शाम 7.30 बजे के करीब पीएम मोदी दिल्ली के लिए रवाना होंगे.

30 हजार मेगावाट होगी क्षमता कच्छ के खावड़ा में बनने वाले विश्व के सबसे बड़े रिन्यूएबल सोलर प्लान्ट का भूमि पूजन प्रधानमंत्री करेंगे, उसकी क्षमता 30,000 मेगावाट होगी,. इसके अलावा सोलर विंड एनर्जी पार्क में एनटीपीसी 4,750 मेगावाट का सोलर विंड पार्क बनाएगा, जो 9,500 हेक्टेयर जमीन पर तैयार होगा.

जबकि डिसेलिनेशन प्लांट कच्छ के मांडवी में बनाया जाएगा. इस प्लान्ट के जरिए समुद्र के खारे पानी को मीठे पीने में तब्दील किया जाएगा. इसकी क्षमता 1,000 लाख लीटर होगी. इस डिसेलिनेशन प्लान्ट के शुरू होने से कच्छ के रण इलाके में पीने के पानी की समस्या काफी हद तक कम हो जाएगी.

प्रधानमंत्री सुबह कच्छ के सफेद रण पहुंचेंगे जहां पर प्रधानमंत्री एक जनसभा को संबोधित करेंगे और यहीं से दोनों ही प्रोजेक्ट की शुरुआत भी करेंगे. प्रधानमंत्री के लिए कच्छ के इसी सफेद रण में एक सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन रखा गया है, जिसमें गुजराती लोकसंगीत गायक ओसम मीर और गीता रबारी अपनी प्रस्तुति देंगे.

प्रधानमंत्री का ये दौरा कच्छ के रण में इसलिए भी खास माना जाता है क्योंकि यह वही सफेद रण है जिसे टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनाने के लिए खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए शुरुआत की थी. अब यह इलाका सैलानियों के बीच काफी लोकप्रिय है और हर साल हजारों लोग यहां घूमने के लिए आते हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button