Tokyo 2020: दीपक ने आखिरी सेकेंड में चीन के पहलवान को किया चित

रवि ने भी लगाया जीत का दांव, दोनों सेमीफाइनल में पहुंचे

टोक्यो ओलिंपिक: (Tokyo Olympics) के रेसलिंग की रिंग से भारत के लिए अच्छी खबर आई है. भारतीय पहलवान रवि कुमार दहिया (Ravi Kumar Dahiya) और दीपक पूनिया (Deepak Punia) ने सेमीफाइनल में जगह बना ली है. पुरुषों के 57 किलो कैटेगरी के क्वार्टर फाइनल में दहिया ने बुल्गारिया के पहलवान को हराया. वहीं 86 किलो भार वर्ग में दीपक पूनिया ने क्वार्टर फाइनल में चीन के पहलवान को 6-1 से हराया. रवि और दीपक दोनों सेमीफाइनल में पहुंचकर भारत के लिए मेडल की उम्मीद जगा दी है.

टोक्यो ओलिंपिक की रिंग में चौथी सीड प्राप्त रवि कुमार को पहले मैच की तरह अपना दूसरा मैच जीतने में भी कोई दिक्कत नहीं हुई. क्वार्टर फाइनल में बुल्गारिया के पहलवान के खिलाफ उन्होंने अपना मुकाबला टेक्निकल सुपरियरिटी के आधार पर जीता. उधर दीपक पूनिया का क्वार्टर फाइनल मैच रोमांचक रहा. चीन के पहलवान लीन के खिलाफ मुकाबले के आखिरी 40 सेकेंड बचे थे तब उन पर हार का खतरा मंडराने लगा था. और उनके लिए जीत का दांव लगाना जरूरी हो गया था. वो दांव उन्होंने आखिरी चंद सेकेंड में लगाकर सेमीफाइनल का टिकट कटाया. इससे पहले अपना अपना प्री-क्वार्टर भी दोनों पहलवानों ने आसानी से जीते थे.

रवि कुमार और दीपक पूनिया का पलड़ा था भारी

भारतीय पहलवान रवि कुमार 2019 के वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप के ब्रॉन्ज मेडलिस्ट रहे थे. कोलंबिया के पहलवान के खिलाफ भारत के रवि कुमार के दांव को पहले से ही बढ़कर आंका जा रहा था. और वही नतीजा मुकाबले में भी देखने को मिला. टोक्यो ओलिंपिक के अखाड़े में उन्हें अपने भार वर्ग में चौथी सीड दी गई थी.वहीं दीपक पूनिया को 86 किलोग्राम भार में दूसरी वरीयता प्राप्त है. ये वरीयता उन्हें क्यों मिली है, ये नाइजिरियाई पहलवान के खिलाफ उन्होंने अपनी आसान जीत से साफ कर दिया है.

महिला कुश्ती की मैट पर अंशु की हार

पुरुषों के अखाड़े से अगर भारत के लिए खबर अच्छी आई तो महिलाओं की रेसलिंग मैट पर अंशु मलिक की हार से निराशा मिली है. साक्षी मलिक को पीछे छोड़ टोक्यो का टिकट कटाने वाली अंशु को बुल्गारिया की महिला पहलवान इरियाना ने 8-2 से हराया. हालांकि, अगर बुल्गारियाई पहलवान फाइनल में पहुंचती हैं तो भारत की महिला पहल अंशु के पास रेपचेज राउंड के जरिए ब्रॉन्ज मेडल जीतने का मौका रहेगा.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button