Tokyo Olympics: रोजर फेडरर और स्टान वावरिंका से आगे बेलिंडा बेंचिच

स्विटरजलैंड को टेनिस का स्वर्ण पदक दिलाया

Tokyo Olympics: रोजर फेडरर या स्टान वावरिंका नहीं बल्कि बेलिंडा बेंचिच ने तोक्यो ओलंपिक में स्विटरजलैंड को टेनिस का स्वर्ण पदक दिलाया जो महिला एकल में चैम्पियन रहीं। 12वीं वरीयता प्राप्त बेंचिच ने चेक गणराज्य की मर्केटा वोंड्राउसोवा को 7- 5, 2- 6, 6-3 से मात दी। वह रविवार को महिला युगल फाइनल भी खेलेगी।

बेंचिच और विक्टोरिया गोलुबिच का सामना चेक गणराज्य की बारबोरा क्रेसिकोवा और कैटरीना सिनियाकोवा से होगा। बेंचिच ने कहा ,” ओलंपिक में दो पदक जीतना अद्भुत है। एक स्वर्ण और दूसरे का रंग अभी तय नहीं है । मैं अपनी पूरी ऊर्जा झोंक दूंगी।’ फेडरर और वावरिंका ने 2008 में युगल स्वर्ण जीता था। फेडरर 2012 में एकल फाइनल में एंडी मरे से हार गए थे। फेडरर और वावरिंका ने इस बार ओलंपिक में हिस्सा नहीं लिया।

थॉम्पसन-हेरा ने महिलाओं की 100 दौड़ में ओलंपिक रिकॉर्ड तोड़ा

जमैका की इलेन थॉम्पसन-हेरा ने महिलाओं के 100 मीटर फर्राटा दौड़ में फ्लोरेंस ग्रिफिथ जॉयनर की 33 साल पुराने ओलंपिक रिकॉर्ड को तोड़ते हुए शनिवार को लगातार दूसरी बार स्वर्ण पदक अपने नाम किया। उन्होंने 10.61 सेकंड का समय लिया जो ग्रिफिथ जॉयनर के 1988 सियोल ओलंपिक (1988) में बनाये 10.62 सेकंड के रिकॉर्ड से बेहतर है।

जमैका के दबदबे वाले में इस स्पर्धा में थॉम्पसन-हेरा ने अपनी हमवतन प्रतिद्वंद्वी शेली-एन फ्रेजर-प्राइस को 0.13 सेकंड से अंतर से पछाड़ा। उनके देश की ही शेरिका जैक्सन ने 10.76 सेकंड के समय के साथ कांस्य पदक जीता। बीजिंग ओलंपिक (2008) के बाद पहली बार जमैका के खिलाड़ियों ने किसी स्पर्धा के पदकों का सूपड़ा साफ किया है।

ओलंपिक में पदार्पण कर रहे चार गुणा 400 मिश्रित रिले स्पर्धा में पोलैंड ने आश्चर्यचकित प्रदर्शन के साथ स्वर्ण जीता। इसका रजत अमेरिका जबकि डोमिनिकन गणराज्य ने कांस्य पदक जीता। पुरुषों के चक्का फेंक में स्वीडन के खिलाड़ी पहले और दूसरे स्थान पर है। डेनियल स्टाल ने स्वर्ण और साइमन पेटर्ससन ने इसका रजत अपने नाम किया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button