भाजपा विधायक के साथ अवैध वसूली पर कहासुनी के बाद टोल कर्मचारी फरार

गाजियाबाद: गाजियाबाद में एक टोल प्लाजा पर कथित रूप से अवैध तरीके से टोल जमा करने के मामले में भाजपा विधायक से हुई कहासुनी के बाद टोल प्लाजा के कर्मचारी वहां से भाग गए और कई घंटे तक बूथ खाली रहा.

बहरहाल, भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने बयान दिया है कि संबंधित एजेंसी टोल जमा करने के लिए अधिकृत है.इस दौरान गाजियाबाद जिला में राष्ट्रीय राजमार्ग 24 पर स्थित डासना का बूथ खाली रहा और कई वाहन बिना टोल चुकाए ही वहां से आते-जाते रहे.

विधायक दलबीर सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि रविवार को दोपहर बाद जब वह टोल बूथ पहुंचे तब वहां लंबी कतार लगी थी और उन्होंने कर्मचारियों से देरी का कारण पूछा था.

 

भाजपा विधायक ने टोल पर मौजूद कर्मचारियों से कहा कि उन्हें बताया गया है कि वे लोग टोल जमा करने के लिए अधिकृत नहीं हैं और उनकी मियाद काफी समय पहले खत्म हो चुकी है. साथ ही लोगों से लिया जा रहा टोल वैध नहीं है.

उन्होंने घटना के बारे में आगे बताया कि मेरी पहचान जानने के बाद वे वहां से फरार हो गए जिससे संदेह और बढ़ गया.

इसलिए मैंने जिलाधीश ऋतु माहेश्वरी से बात की और घटना से उन्हें अवगत कराया और मामले में उनसे जांच का अनुरोध किया. वहीं ऋतु माहेश्वरी का कहना है कि मामले की जांच की जाएगी.

Back to top button