बड़ी खबरराष्ट्रीय

राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल टैक्स बंद

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए देश भर में लॉकडाउन कर दिया गया है. ऐसे में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बुधवार को देर शाम ऐलान किया है कि लॉकडाउन में आपात सेवाओं का काम आसान करने के लिए देश में अस्थायी तौर पर राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल नहीं लिया जाएगा.

गडकरी ने कहा कि देश के सभी टोल प्लाजा पर टोल लेने का काम बंद पूरी तरह से बंद किया जाए. इस फैसले से एक तरफ आपात सेवाओं में लगे लोगों का समय बचेगा तो दूसरी तरफ टोल प्लाजा पर काम करने वाले कर्मचारी भी कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रहेंगे. हालांकि, सड़कों के रखरखाव और टोल प्लाजा पर आपातकालीन संसाधनों की उपलब्धता हमेशा की तरह जारी रहेगी.

बता दें कि कोरोना के खतरों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को पुरे भारत में  21 दिनों का पूरी तरह से लॉकडाउन किए जाने की घोषणा की, 14 अप्रैल तक चलेगा. इस दौरान हाइवे और प्रदेशें की सीमाएं सील कर दी गई हैं, केवल आपातकालीन वाहनों को ही आने-जाने की अनुमति है. ऐसे में केवल जरूरी वस्तुओं की सप्लाई करने वाले ट्रक, अनिवार्य सेवाओं से संबंधित सरकारी वाहन और एंबुलेंस ही आ जा रही हैं.

लॉकडाउन का पूरी तरह से पालन करने के लिए सभी राज्य सरकारों ने अपनी-अपनी अंतरराज्यी सीमाओं को भी पूरी तरह से सील कर दिया है और जगह-जगह पर चेप पोस्ट लगा रखा है. ऐसे में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के टोल नहीं लेने के फैसले से आपात काल सेवाओं में लगे लोगों को फायदा होगा और वे कम समय में बिना कहीं रुके सुचारू रूप से सेवा दे पाएंगे.

कोरोना वायरस का कहर दुनियाभर में बढ़ता जा रहा है. हिंदुस्तान में इससे निपटने के लिए 21 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया है जिसका गुरुवार को दूसरा दिन है. लॉकडाउन की वजह से आम लोगों को जरूरी समान की किल्लत हो रही है, हालांकि सरकारों की ओर से लगातार मदद पहुंचाने की कोशिश की जा रही है.

इस बीच देश में कोरोना केस की संख्या 687 पहुंच गई है, जबकि 15 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. ऐसे में सरकारें अपनी ओर हरसंभव कोशिश कर रही है और लोग भी एहतियात बरत रहे हैं.

Tags
Back to top button