त्रिपुरा में मूसलाधार बारिश, कई लोग बेघर; बाढ़ के हालात

अगरतला। त्रिपुरा में पिछले दो दिनों से हो रही लगातार बारिश लोगों के लिए आफत की बारिश बन गई है। भारी बारिश के कारण हावड़ा नदी का जलस्तर भी बढ़ गया है जिससे खतरा और बढ़ गया है। लगातार हो रही बारिश की वजह से वहां पर बाढ़ के हालात बन गए हैं।

पश्चिमी त्रिपुरा के जिला अधिकारी ने बताया कि हावड़ा नदी खतरे के निशान से ऊपर चल रही है। नदी किनारे बसने वाले लोगों के लिए राहत कैंप लगाए गए हैं, जिनमें लगभग 670 परिवार रह रहे हैं। इसके अलावा एनडीआरएफ, टीएसआर और सिविल डिफेंस के 16 नावों को भी राहत कार्य में लगाया गया है। बता दें कि बिगड़े हालातों ने कई लोगों को बेघर कर दिया है। फिलहाल नेशनल डिजास्टर रिलीफ फोर्स, सिविल डिफेंस रेस्क्यू ऑपरेशन चला रहे हैं। वहीं प्रशासन ने बाढ़ से बेघर हुए लोगों के लिए पर्याप्त खाद्य आपूर्ति और पेयजल की व्यवस्था की है।

रिपोर्ट के मुताबिक पांच हजार से अधिक लोगों ने अपने सामान और पालतू जानवरों के साथ राजधानी अगरतला और इसके आसपास के स्कूलों और सरकारी प्रतिष्ठानों में अस्थायी शिविरों में शरण ली है। वहीं राज्य की प्रमुख नदियों में वॉटर लेवल खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया है। गोमती, देव, मनु और हावड़ा नदी में हर घंटे जलस्तर बढ़ता जा रहा है। जिसकी वजह से पूरा राज्य में बाढ़ की स्थिती बन हुई है।
<>

new jindal advt tree advt
Back to top button