पैरेंटिंगलाइफ स्टाइल

विषैले और स्ट्रांग केमिकल्स करते है सेहत में नुकसान, होता है बांझपन

तो जान लें कि ये क्‍लीनिंग प्रॉडक्‍ट आपकी प्रजनन क्षमता पर बुरा असर डाल सकते हैं।

अच्छी सेहत के लिए घर का साफ-सुथरा होना बहुत जरूरी है। घर के कोने-कोने में छिपे कीटाणुओं को खत्म करने के लिए हम कई तरह के केमिकल बेस्ड क्लीनिंग प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं।

यह सफाई तो कर देते हैं लेकिन इनके विषैले और स्ट्रांग केमिकल्स सेहत के लिए नुकसानदायक हैं।

आप पर भी बार-बार बाथरूम, फर्श या टाइल्स साफ करने की धुन सवार रहती है तो जान लें कि ये क्‍लीनिंग प्रॉडक्‍ट आपकी प्रजनन क्षमता पर बुरा असर डाल सकते हैं।

प्रजनन क्षमता होती है कमजोर

इन प्रॉडक्ट्स में मौजूद अमोनिया, कोलतार डाइज़, एमईए, डीईए, टीईए, एनपीईएस, फ्रेंगरेंस केमिकल्स, फॉस्फेट और सिलिका पाउडर मौजूद होते हैं।

जो धीरे-धीरे फर्टीलिटी पर बुरा प्रभाव डालना शुरू करते हैं। फैमिली प्लानिंग कर रहे हैं तो इस इन चीजों का इस्तेमाल करने से परहेज करें।

क्लीनर के इस्तेमाल से होने वाले नुकसान

इनका सबसे ज्यादा असर स्किन पर पड़ता है। यह केमिकल्स हाथ पर लगने से स्किन इंफैक्शन हो सकती हैं।

इसके अलावा जी घबराना, सिर घूमना, चक्कर आना, आंख और स्किन में जलन और इरिटेशन आदि संबंधी परेशानियां आ सकती हैं।

एक शोध में यह बात सामने आई है कि कुछ लोगों में प्रजनन क्षमता की कमी के पीछे भी इन कैमिकल युक्त क्लीनिंग प्रॉडक्ट का ज्यादा इस्तेमाल करना है।

सावधानी बरतना जरूरी

साफ-सफाई करना अच्छी बात है लेकिन इसके लिए स्ट्रांग केमिकल्स युक्त क्लीनर का इस्तेमाल करते हुए कुछ सावधानियां बरतनी जरूरी हैं ताकि सेहत के साथ-साथ फर्टीलिटी पॉवर भी अच्छी रहे।

अपनाएं ये सेफ्टी टिप्स

इनको खरीदने से पहले इन पर बताए गए सेफ्टी टिप्स के दिशा-निर्देश आसानी से पढ़ लें। अगर आपको किसी तरह की असुविधा नजर आए तो प्रॉडक्ट का न खरीदें।

इसे बच्चों की पहुंच से दूर स्टोर करें ताकि उन्हें किसी तरह का कोई नुकसान न हो।

फ्लोर साफ करने के लिए क्लीनर की जगह पर सफेद सिरके का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे किसी तरह का नुकसान नहीं होता।

रोजाना पोछा लगने वाले पानी में थोड़ा नमक डाल लें। कीड़े-मकौड़े नहीं आएंगे और नेगेटिव एनर्जी भी दूर रहेगी।

केमिकल्स की जगह पर डिश वॉशर व डिटर्जेंट पाउडर का इस्तेमाल करें।

बच्चे को केमिकल प्रॉडक्ट्स वाली बोतल की पहचान करवा कर इसके खतरे और वॉर्निंग जैसे शब्दों का मतलब समझाएं ताकि आपकी गैर मौजूदगी में वह इसे न छूए।

Summary
Review Date
Reviewed Item
विषैले और स्ट्रांग केमिकल्स करते है सेहत में नुकसान, होता है बांझपन
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags
Back to top button