टपोरियों ने बकरे के जगह मालिक को थमाया काला कुत्ता,भौंका तो चला पता

जिसके बाद पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी

कानपुर। ठगी के आपने कई मामले सुने होगे,लेकिन ये मामला कुछ अनोखा है। हम आपको ठगी का ऐसा मामला बताने जा रहे हैं। जिसे सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे।

#काला कुत्ता,#

दरअसल टपोरियो ने मिलकर बकरा मालिक को बकरा बता कुत्ता थमा दिया. लेकिन कुछ देर बाद जब मामला खुला तो उसके होश फाख्ता हो चुके थे.. ठगी हो जाने का पता लगते ही पीड़ित ने उस व्यक्ति की शिकायत पुलिस में दर्ज हुआ, जिसके बाद पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है.

जब कुत्ते ने भौंका तब हुआ खुलासा

कानपुर स्थित जाजमऊ चुंगी मंड़ी में बकरा बेचने पहुंचे अशरफ को वहां के टप्पेबाजों ने अपना निशाना बनाया। रात के अंधेरे का फायदा उठाकर टप्पेबाजों ने अशरफ को एक काला कुत्ता पकड़ा उसका एक बकरा ले भागें।

अशरफ धोखे का शिकार हो चुका है इस बात का पता उसे तब चला जब वह कुत्ता भोंकने लगा। जिसके बाद अशरफ ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है।

टपोरियो ने भीड़ और अंधेरे का उठाया फायदा

पुलिस थाने में दर्ज शिकायत के मुताबिक अशरफ सोमवार कानपुर की जाजमऊ चुंगी मंडी में अपना बकरा बेचने पहुंचा था.

जहां कुछ टपोरियो ने भीड़ और अंधेरे का फायदा उठाया और अशरफ के पास जाकर कहा कि आपका बकरा रस्सी तोड़कर भाग गया है जिसको वह पकड़ कर लाया है. जिसके बाद टपोरियो ने अशरफ को उसके बकरे की रस्सी थमाई और वहां से तुरंत भाग निकला.

टप्पेबाज द्वारा दिये गए रस्सी को पकड़ते ही टप्पेबाज अशरफ के एक बकरे को लेकर भाग गया। कुत्ते के मुंहपर कपड़ा बंधे होने के कारण कुत्ता उस वक्त भोंक नहीं सका। अशरफ के अनुसार उसके बकरे की किमत छह हजार रूपये है। शिकायत दर्ज कर पुलिस मामले की जांच में जुट चुकी है।

पुलिस में की शिकायत

अंधेरे में अशरफ ने बिना देखे अपने बकरे की रस्सी पकड़ ली लेकिन काफी देर बाद जब कुत्ते ने भौंकना शुरु किया तब अशरफ को अपने ठगे जाने का पता लगा. अशरफ ने बताया कि टपोरियो ने कुत्ते के मुंह पर कपड़ा बांधा हुआ था,

जिस कारण वह भौंक नहीं सका था लेकिन कुछ देर बाद परेशान हो जाने पर उसने भौंकना शुरू किया और मामला समझ में आया. जिसके बाद अशरफ ने पुलिस में जाकर इस मामले की शिकायत दर्ज कराई. अशरफ ने बताया कि उसके बकरे की कीमत 6 हजार रुपये थी.

Tags
Back to top button