यूपी में कांग्रेस की बनी सरकार तो व्यापारी कल्याण बोर्ड का होगा गठन: भूपेश बघेल

रायपुर/वाराणशी. काशी की परंपरा रही है, जो भी बाबा श्रीकाशी विश्नाथ के दरबार में आता है, वह मां अन्नपूर्णेश्वरी के आंचल की ठांव में जरूर जाता है। लेकिन भाजपा सरकार ने विश्वनाथ धाम का निर्माण करके बाबा विश्वनाथ और मां अन्नपूर्णेश्वरी के बीच बंटवारा कर दिया है। यह बातें मंगलवार को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और उप्र विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के चुनाव प्रभारी भूपेश बघेल ने वाराणसी में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कही।

उन्होंने कहा कि अन्नपूर्णा मंदिर के महंत शंकर पुरी बहुत द्रवित हैं। उन्होंने मुझे बताया कि कारिडोर निर्माण के समय कहा गया था कि मां अन्नपूर्णेश्वरी के धाम में आने के लिए एक भव्य द्वार का निर्माण किया जाएगा। अब वर्तमान में तीन फीट का एक गलियारा छोड़ा गया है। अब जो नए श्रद्धालु बाबा के दर्शन को आएंगे, उन्हें मां अन्नपूर्णा का दर्शन करने में कठिनाई होगी। गोदौलिया से दशाश्वमेध और मैदागिन के बीच स्थित सभी भवनों को गुलाबी रंग में रंगवा दिया गया है।

ज्ञानवापी मस्जिद की एक दीवार को भी रंग दिया गया है। लोकार्पण से पहले कांग्रेस मस्जिद और मैदागिन स्थित अपने पार्टी कार्यालय को पुन: सफेद रंग से रंगवाएंगी। उप्र में 2017 से अभी तक आठ बार पेपर लीक हुआ है। यह सरकार बेरोजगारों को छल रही है। भाजपा सरकार का लक्ष्य है कि 2022 में किसानों की आय दोगुनी हो जाए।

मगर हकीकत यह है कि प्रदेश की भाजपा सरकार किसानों को डीएपी खाद नहीं उपलब्ध करा पा रही है। कांग्रेस इन सभी मुद्दों को अपने घोषणा पत्र में शामिल कर रही है। प्रदेश में यदि कांग्रेस सत्ता पर काबिज हुई तो बिजली का बिल आधा, किसानों को धान का समर्थन मूल्य 1950 रुपये प्रति क्विंटल और गेहूं का मूल्य 2200 रुपये प्रति क्विंटल दिया जाएगा। रोजगार के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने दो रुपये प्रतिकिलो गोबर खरीदना शुरू किया है।

इससे हम बिजली और खाद बना रहे हैं। इस प्रोजेक्ट से हम बेरोजगारों को रोजगार दे रहे हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के नेतृत्व में संगठन मजबूत हो रहा है। इसका अच्छा परिणाम विधानसभा चुनाव में देखने को मिलेगा। काशी के विकास के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि विकास देखना है तो यहां की गलियों में देखें।

बीस लाख युवाओं को सरकारी नौकरी देने का लक्ष्य

मुख्यमंत्री और यूपी विधानसभा के पर्यवेक्षक भूपेेश बघेल मंगलवार को मलदहिया स्थित एक होटल में व्यापारियों और पटेल समाज के लोगों से संवाद किया। उन्होंने छत्तीसगढ़ सरकार के विकास माडल के बारे में यहां के व्यापारियों को बताया। कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार की उद्योग नीति से व्यापारी और उद्यमी संतुष्ट और खुशहाल हैं। हमने अपने यहां किसानों को उनके उत्पादन का अधिकतम समर्थन मूल्य निर्धारित किया है। यहां के किसानों से भी वादा करते हैं कि प्रदेश में यदि कांग्रेस की सरकार बनी तो गेहूं और धान का समर्थन मूल्य 25 सौ रूपये प्रति क्विंटल देंगे।

वहीं रोजगार के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में बीस लाख युवाओं को सरकारी नौकरी देने का लक्ष्य रखा है। वर्तमान में 12 लाख सरकारी पद खाली हैं। सरकार बनी तो सबसे पहले यह पद भरे जाएंगे। संवाद कार्यक्रम के दौरान व्यापारियों को भरोसा दिलाया कि आप निश्चिंत रहें, हमारा समर्थन करें। हम व्यापारी कल्याण बोर्ड गठित करेंगे। इस सरकार में सबसे अधिक लाभ वाले संस्थाओं का निजीकरण किया जा रहा है। उद्योग स्थापना के लिए अपनी नीतियों के बारे में बताते हुए कहा कि हमने उद्योगों को चार वर्गों में बांटा है। जिसमें 60 से 150 फीसद तक अनुदान सरकार की ओर से दिया जाता है।

बुनकर समाज की समस्याओं को सुनने के बाद इशारों-इशारों में कहा कि आपका समाज एकजुट हो जाए तो सब समस्या हल हो सकती है। पटेल समाज के लोगों से वादा कि सरकार में आपकी महत्वपूर्ण भूमिका होगी। संवाद के दौरान यूपी चुनाव के सह प्रभारी राजेश तिवारी, पूर्व विधायक अजय राय, प्रदेश सचिव इमरान खान, जिलाध्यक्ष राजेश्वर पटेल, महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे, डा. जितेंद्र सेठ, दुर्गा प्रसाद गुप्ता, मनीष चौबे, शैलेंद्र सिंह, मनीष मोरोलिया, विश्वनाथ कुंवर सहित अन्य कार्यकर्ता थे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button