छत्तीसगढ़

नवीन डाटाबेस सॉफ्टवेयर में जानकारी अद्यतन करने दिया गया प्रशिक्षण

- मनीष शर्मा

मुंगेली: कार्मिक सम्पदा (ई-कर्मचारी) सॉफ्टवेयर के माध्यम से समस्त शासकीय सेवकों ऑनलाईन डाटाबेस तैयार करने कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में प्रशिक्षण सह कार्यशाला का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण में जिला कोषालय अधिकारी डॉ. रूपेश पाठक ने बताया कि वर्तमान ई-कर्मचारी सॉफ्टवेयर वर्ष 2006 में लागू किया गया था जिसमें शासकीय सेवकों की बहुत सी आवश्यक जानकारियां प्राप्त नहीं की गयी थी, जिससे राज्य शासन को वर्तमान में उपलब्ध कर्मचारियों की संख्या, कर्मचारियों के लिए होने वाले मासिक, वार्षिक व्यय, आगामी वर्षो में सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों की वास्तविक जानकारी उपलब्ध नहीं हो पाता है।

इसके लिए ई-कर्मचारी सॉफ्टवेयर में कर्मचारियों से संबंधित अन्य जानकारियों को प्रविष्ट कर उक्त सॉफ्टवेयर को नवीन रूप में तैयार किया गया है। साथ ही ई-कर्मचारी सॉफ्टवेयर के अपडेट जानकारी के आधार पर ई-पेरोल को अपडेट किया जायेगा। जिससे कार्य में दोहराव न हो। इसके लिए ई-पेरोल सॉफ्टवेयर को ई-कर्मचारी से लिंक किया जा रहा है। प्रशिक्षण में समस्त डी.डी.ओ., अधिकारी-कर्मचारियों को कार्मिक संपदा (ई-कर्मचारी) भरने के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई।

कार्मिक संपदा (ई-कर्मचारी) मॉड्यूल में कर्मचारी से संबंधित समस्त प्रविष्टयां व उनके संशोधन का कार्य उसके सेवा पुस्तिका के आधार पर हो तथा सॉफ्टवेयर के माध्यम से प्रत्येक अधिकारी, कर्मचारी की जानकारी को निर्धारित समयावधि 500 तक कर्मचारियों के लिए 31 अगस्त 2019 तथा 500 से अधिक कर्मचारियों के लिए 30 सितम्बर 2019 तक अद्यतन कराने निर्देशित किया गया है। प्रशिक्षण में सहायक कोषालय अधिकारी पद्माकर सिंह परिहार, सहायक वर्ग-1आर.ए. देवांगन, सहायक वर्ग-2 कौशल प्रसाद जगत, राजेंद्र कुमार सिंह पैकरा एवं जिले के समस्त आहरण एवं संवितरण अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

Tags
Back to top button