छत्तीसगढ़

ईसाई समुदाय के मिस्टर एवं मिस आदिवासी ( कुड़ुख ) कार्यक्रम के विरोध में जनजाति समाज

ईसाई समुदाय द्वारा ऐसे शब्द का प्रयोग करना एवं कार्यक्रम आयोजित

रायपुर : जनजाति गौरव समाज, सरगुजा द्वारा बिशप हाउस चर्च नवापारा के प्रमुख बिशप पतरस मिंज, फादर थेओदोर लकड़ा, फादर अनुरंजन तिग्गा के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने गांधीनगर देहात थाने में आवेदन दिया गया। जनजाति गौरव समाज के जिलाध्यक्ष बिहारीलाल तिर्की ने बताया कि बिशप हाउस चर्च नवापारा अंबिकापुर द्वारा मिस्टर एवं मिस आदिवासी कुड़ुख प्रतियोगिता व्हाट्सएप के माध्यम से प्रश्न – उत्तर का प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम आयोजन किया गया है,

जिसमें जो प्रश्न पत्र बिशप हाउस चर्च द्वारा जारी किया गया था उसमें हमारे धर्म संस्कृति रीति रिवाज एवं महादेव पार्वती पर आधारित प्रश्न थे जोकि आदिवासी कुड़ुख समाज की संस्कृति परंपरा एवं रूढ़ीवादी प्रथा के विपरीत है यह हमारी भावनाओं को आहत करने वाला कार्यक्रम है, आदिवासी समाज में ऐसे किसी भी प्रकार के आयोजन का कोई जिक्र नहीं है। चूँकि ईसाई धर्म को मानने वाले लोग अल्पसंख्यक समुदाय में आते हैं, जिनका आदिवासी परंपरा से कोई संबंध नहीं, इसके बावजूद उनके द्वारा इस तरह का कार्यक्रम एक योजना पूर्ण तरीके से आदिवासी संस्कृति को नष्ट एवं छिन्न-भिन्न करने का प्रयास है।

ईसाई समुदाय द्वारा ऐसे शब्द का प्रयोग करना एवं कार्यक्रम आयोजित

इसके पीछे उनका मुख्य उद्देश्य धर्मांतरण कराना है एवं ऐसा आयोजन भारतीय दंड विधान के तहत दंडनीय अपराध की श्रेणी में आता है उनके द्वारा धुमकुड़िया कुड़ुख शब्द का प्रयोग किया गया है, जो कि धार्मिक जनजाति समाज का धार्मिक मान्यता के साथ-साथ संस्कार एवं संस्कृति का केंद्र बिंदु है। ईसाई समुदाय द्वारा ऐसे शब्द का प्रयोग करना एवं कार्यक्रम आयोजित करने से समाज में विभेद फैलने की आशंका है। इसलिए जनजाति गौरव समाज सरगुजा द्वारा बिशप हाउस प्रमुख एवं आयोजकों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए आवेदन दिया गया है। इसके साथ ही समाज के लोगों ने बताया कि यदि उन पर कड़ी कार्यवाही नहीं होती है तो वे संवैधानिक एवं उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे।

कार्यक्रम में कमलेश टोप्पो, अंकित कुमार तिर्की, पुष्कर नाथ बीआर निराला, जीतू लकडा, रामदेव भगत, देवलाल सिंह पैकरा, सोनिया मुंडा, दिलराज मुंडा, सुमेश्वर सिंह, युकेश मुंडा, शिवराम पंडो , बेचन राम पंडो, सहदेव मझवार, जमुना मझवार, धर्मपाल भगत, धन राम नागेश, किरण भगत, महनती, रविराज भगत, पावन पूर्णाहुति भगत, सरस्वती एक्का, श्रवण कुमार भगत, दिव्या एक्का, प्रिया एक्का, सूरज, बाल मुनि प्रधान , शुभा मणि भगत, मानवेल बड़ा, नेहा भगत, संजय मिंज, रोशन भगत, जीत भगत, क्रांति खलखो राजेश एक्का उपस्थित रहे ।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button