छत्तीसगढ़

गुरु घासीदास जयंती पर बजट स्वीकृत नहीं होने से आदिवासी छात्र नाराज

मंत्री प्रेमसाय के बंगले के बाहर आदिवासी छात्रों का प्रदर्शन

रायपुर: गुरु घासीदास जयंती के अवसर बजट स्वीकृत नहीं करने और व्यवस्था नहीं करने से नाराज आदिवासी छात्र-छात्रों ने स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम के बंगले के बाहर बैठक प्रदर्शन कर रहे हैं.

गुरु घासीदास जयंती कार्यक्रम 18 दिसंबर को किया जाना है, जिसमें भोजन, लाइट, टेंट की व्यवस्था विभाग द्वारा किया जाता है, लेकिन इस बार कोई व्यवस्था नहीं की गई है. आदिमजाति कल्याण विभाग अनुसूचित जाति रायपुर के समस्त छात्रावास के छात्र-छात्रा प्रदर्शन में शामिल है.

छात्र नेता चेतेश्वर रात्रे ने बताया कि 18 दिसंबर को गुरु घासीदास जयंती है. इसके लिए बजट की राशि हर साल पाँच लाख स्वीकृत विभाग द्वारा होता है, जो इस साल नहीं हुआ है.

इसी माँग को लेकर लिए आज मंत्री के पास पहुँचे थे लेकिन मंत्री प्रवास पर है और कोई सुनवाई नहीं होने कारण अपनी माँग को लेकर मंत्री के बंगले के बाहर सुबह 7 बजे धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. अभी 12 बज चुके हैं लेकिन कोई भी अधिकारी कर्मचारी मौक़े पर नहीं पहुँचे हैं.

शहीद वीर नारायण जयंती के लिए हर साल पाँच लाख का बजट होता है, जो नियमित रूप से बजट जारी हुआ. लेकिन गुरु घासीदास के लिए बजट होता है उसे स्वीकृत नहीं किया गया.

प्रदर्शनकारी छात्र छात्राओं का कहना है कि जब तक हमारी माँगे पूरी नहीं की जाएगी. अब यहाँ से नहीं हटेंगे अगर आधे घंटे के अंदर हमारी माँग पूरी नहीं की गई, तो यहीं पर चक्काजाम करेंगे. तोड़फोड़ करना पड़े तो तोड़फोड़ भी करेंगे.

Tags
Back to top button