पटाखों की बिक्री पर रोक से बिफरे त्रिपुरा के राज्यपाल, कहा- अवॉर्ड वापसी गैंग चिता जलाने पर भी याचिका डाल दे

सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का हवाला देते हुए दीपावली के मौके पर पटाखों की बिक्री पर रोक लगाने से एक तरफ जहां पटाखा कारोबारियों में हलचल मची है, वहीं इस मुद्दे पर राजनीति भी खूब हो रही है. खासकर सोशल मीडिया पर तो इस आदेश के पक्ष और विपक्ष में खेमे तैयार हो गए हैं. संवैधानिक पद पर बैठे लोग भी लड़ाई में कूद पड़े हैं.

त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत राय ने आगे बढ़ते हुए कड़े शब्दों में एक ट्वीट किया है. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले से हिंदुओं की भावनाओं पर ठेस लगी है. राज्यपाल ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘कभी दही हांडी,आज पटाखा ,कल को हो सकता है प्रदूषण का हवाला देकर मोमबत्ती और अवार्ड वापसी गैंग हिंदुओ की चिता जलाने पर भी याचिका डाल दे !’

उनके ट्वीट पर सैकड़ों लोगों ने अलग-अलग प्रतिक्रियाएं दी हैं. कुछ ने राज्यपाल का समर्थन करते हुए लिखा है, ‘ हिन्दू बहुसंख्यक होने के कारण, योग अथवा प्राणायाम करके हिन्दू अधिक CO2 छोड़के प्रदुषण बढ़ाते है.

एक समर्थक ने लिखा है, ‘पटाखे भी कमबख्त सेक्युलर्स हो गए हैं. नए साल के जश्न में फूटते हैं तो खुशियां बिखेरते हैं और दिवाली पे फूटते हैं तो प्रदुषण!’

Back to top button