छत्तीसगढ़

त्रिवेदी ने दागा सवाल: 35 किलो प्रति परिवार को चावल देने हो रहा है राशन कार्ड का नवीनीकरण, तो 7 किलो चावल देने वाली भाजपा को पीड़ा क्यू ?

रायपुर: भाजपा प्रवक्ता एवं पूर्व विधायक श्रीचंद सुंदरानी के आरोपों को खारिज करते हुए प्रदेश कांग्रेस महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार राइट टू फूड के तहत छत्तीसगढ़ के प्रत्येक परिवार को 35 किलो चावल देने जा रही है। इससे गरीबो के राशन को डकारने वाली भाजपा को पीड़ा हो रही है। राशनकार्ड के नवीनीकरण से जनता खुश है,राशनकार्ड नवीनकरण से चावल वितरण योजना में पारदर्शिता आयेगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार छत्तीसगढ़ के शत प्रतिशत परिवार को 35 किलो चावल देने जा रही है तो सिर्फ भाजपा इससे हुयी है। राशनकार्ड नवीनीकरण से चावल घोटाला का पोल खुलने से भाजपा के नेता भयभीत है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की जन हितैषी सरकार का मूल मंत्र ही मितव्ययिता है।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने जानकारी देते हुये बताया कि रमन सिंह सरकार के समय से छत्तीसगढ़ की सार्वजनिक वितरण प्रणाली पूरी तरीके से गड़बड़ी की शिकार है स्वयं मुख्यमंत्री के रूप में रमन सिंह जी की नान घोटाले में संलिप्तता उजागर हुयी थी और लगातार रमन सिंह के खिलाफ दस्तावेजी सबूत मिलते रहे और शिकायतें मिलती रही। लोकसभा चुनाव के बाद हुयी कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में यह प्रस्ताव आया कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली में सुधार लाया जाना चाहिए और भाजपा की सरकार की दुषित भ्रष्ट प्रणाली में परिवर्तन होना चाहिए। कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भावनाओं और जनभावनाओं के अनुरूप और शिकायतों पर आवश्यक कार्यवाही के लिये नयी राशन कार्ड प्रणाली लागू की गई है।

प्रदेश महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि छात्रों के लैपटॉप, मोबाइल वितरण,तीर्थ यात्रा सहित अनेक योजनाओं में रमन सिंह का फोटो छपवाने में करोड़ो रुपया खजाने का उड़ाने वाली भाजपा अब घोटाले और भ्रष्टाचार की पोल खुलने के भय से राशनकार्ड प्रिटिंग की लागत के नाम पर कांग्रेस सरकार की गरीब हितकारी अनाज योजना का विरोध कर रही है। जिससे बीपीएल परिवारों के साथ-साथ एपीएल अर्थात गरीबी रेखा में नहीं आने वाले को भी सस्ती दरों में चांवल मिलेगा जो भाजपा सरकार ने कभी नहीं किया।

राशन कार्ड नवीनीकरण के माध्यम से मिलने वाला 35 किलो चावल के अलावा उक्त परिवार के सदस्यों की संख्या के अनुसार चावल की दिये जाने का भाजपा विरोध कर रही है। भाजपा किसान विरोधी तो थी ही अब राशनकार्ड नवीनीकरण का विरोध कर भाजपा ने अपनी गरीब विरोधी नीति और सोच को उजागर कर दिया है। पूर्व की रमन सरकार के दौरान मंत्रियों भाजपा के नेताओं रिश्तेदारों के द्वारा गरीबों के अनाज में घोटाले किये गये। 36 हजार करोड़ का नान घोटाला भाजपा सरकार में गरीबों के अनाज की लूट का जीताजागता सबूत है।

राशन कार्ड नवीनीकरण हेतु अनियमितता को 5 अगस्त तक बढ़ने के सरकार के फैसले का स्वागत करते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने जानकारी दी है 28 जुलाई की स्थिति में 85 प्रतिशत राशन कार्ड घारको से नवीनीकरण के लिये आवेदन प्राप्त होने को देखते हुये और 15 प्रतिशत धरकों के आवेदन शेष होने को देखते कांग्रेस सरकार ने पूरी संवेदनशीलता बरतते हुये आवेदन की अंतिम तिथी को 5 अगस्त तक बढ़ाया है।

Tags
Back to top button
%d bloggers like this: