मनोरंजनराष्ट्रीय

मुंबई और बिहार पुलिस के बीच हुई खींचतान, सुशांत से जुड़े दस्तावेज देने से किया इनकार

सूत्रों के मुताबिक मुंबई पुलिस ने सुशांत से जुड़े किसी भी तरह के दस्तावेज देने से इनकार कर दिया है।

नई दिल्ली: सुशांत सिंह राजपूत के पिता के के सिंह ने मंगलवार को रिया के खिलाफ पटना में एफआईआर दर्ज करवाते हुए उनपर ब्लैकमेलिंग और आत्महत्या के लिए उकासाया जैसा संगीन आरोप लगाया है। जिसके फौरन बाद बिहार की टीम मुबंई पहुंची और अब इस केस से जुड़े पहलू को सुलझाने में मुंबई पुलिस की मदद करेगी।

मुंबई और बिहार पुलिस के बीच हुई खींचतान

ऐसे में खबरें तो यही आ रही थी कि बिहार की पुलिस मुंबई पुलिस से मिलकर उनसे केस डायरी के अलावा अन्य जरूरी कागजात हासिल करेगी। लेकिन शायद ऐसा मुमकिन नजर नहीं आ रहा। सूत्रों के मुताबिक मुंबई पुलिस ने सुशांत से जुड़े किसी भी तरह के दस्तावेज देने से इनकार कर दिया है।

दरअसल, जो डीसीपी मुंबई में सुशांत का केस संभाल रहे हैं, उन्होंने पटना पुलिस को सिर्फ और सिर्फ को-ऑपरेट करने का आश्वासन दिया है। वहीं दस्तावेज हासिल करने के लिए उन्होंने पटना पुलिस को नोडल ऑफिसर डीसीपी क्राइम ब्रांच से मिलने का सुझाव दिया है। इससे तो यह बात साफ है कि मुंबई पुलिस और पटना पुलिस के बीच खींचतान चल रही है। वहीं कई लोग तो सोशल मीडिया पर मुंबई पुलिस की जमकर आलोचना भी कर रहे हैं।

आपको बता दें कि सुशांत के पिता के के सिंह ने आईपीसी की धारा 306, 341, 342, 380, 406 और 420 के तहत मामला दर्ज कराया है। वहीं के के सिंह के वकील मुंबई पुलिस पर भी आरोप लगाया है।

उन्होंने बताया कि कैसे मुंबई पुलिस सुशांत के परिवार को पांच से छह बड़े प्रोडक्शन हाउस के नाम बताने के लिए पर यह दबाव बना रही है। उन्होंने आगे कहा कि ‘अगर हम सीधे तौर पर उन्हें जिम्मेदार नहीं मानते तो हम फिर क्यों प्रोडक्शन हाउस का नाम अप्रत्यक्ष रूप से शायद उनकी कुछ भागीदारी हो सकती है लेकिन हमारे कहने का यह आधार नहीं हो सकता है। आप रिया को भूल जाते हैं और बड़े प्रोडक्शन हाउस के पीछे पड़ जाते हैं।’ के के सिंह के वकील ने यह दावा भी किया कि सुशांत केस को लेकर मुंबई पुलिस ने अब तक एक भी एफआईआर दर्ज नहीं किया है। वे इस मामाले को एक अलग ही एंगल में लेकर जा रही है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button