कोसागोंदी जनसमस्या निवारण शिविर में 654 आवेदनों का निपटारा

तीन अनुपस्थित अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस

बालोद:

गुरूर विकासखण्ड के ग्राम कोसागोंदी में आयोजित आज जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर में क्षेत्र के ग्रामीण स्वयं तथा अपने ग्राम की समस्याओं का निराकरण कराकर लाभान्वित हुए हैं। कलेक्टर किरण कौशल के मार्गदर्शन में शिविर में मौके पर ही 654 प्रकरणों का निराकरण कर क्षेत्र के ग्रामीणों को लाभान्वित किया गया। शिविर में कलेक्टर ने ग्रामीणों की समस्याओं को गंभीरतापूर्वक सुनी और उनकी समस्याओं का नियमानुसार शीघ्र निराकरण का भरोसा उन्हें दिलाया। इससे पूर्व कलेक्टर ने विभागीय स्टालों का निरीक्षण कर आवेदनों के निराकरण की जानकारी अधिकारियों से ली।

शिविर में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी और महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र द्वारा बिना किसी सूचना के अनुपस्थित रहने पर कलेक्टर ने नाराजगी व्यक्त कर उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा 275 मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण कर निःशुल्क दवाईयॉ दी गई

शिविर में आयुष विभाग और स्वास्थ्य विभाग द्वारा 275 मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण कर निःशुल्क दवाईयॉ दी गई। खाद्य विभाग द्वारा प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत तीन हितग्राहियों को गैस कनेक्शन प्रदान किया। लाभान्वित होने वालों में ग्राम कोसागोंदी की गीता बाई, ग्राम पीकरीपार की बोधीन बाई और बिंदा बाई शामिल हैं। शिविर में राष्ट्रीय खाद्यान्न सुरक्षा मिशन योजना के अंतर्गत नवीन गोदाम निर्माण हेतु ग्राम अरकार के केदारनाथ को डेढ़ लाख रूपए के अनुदान राशि का चेक प्रदान किया गया। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा छह बच्चों का अन्नप्रासन संस्कार कराया गया।

शिविर में क्षेत्र के ग्रामीणों द्वारा मुक्तिधाम में शेड निर्माण कराने, यात्री प्रतिक्षालय निर्माण कराने, पक्की नाली निर्माण कराने, नया विद्युत कनेक्शन प्रदान करने, विद्युत मीटर बदलने, सोलर पंप लगाने, नया हैण्डपम्प लगाने, पानी टंकी निर्माण कराने, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना का लाभ दिलाने, नया राशन कार्ड बनाने, राशन कार्ड में नाम जोड़ने, श्रम पंजीयन कार्ड बनाने, कटबांध का मरम्मत कराने, नया स्मार्ट कार्ड बनाने, उप स्वास्थ्य केन्द्र खोलने, शिक्षक पदस्थ करने, त्रुटि सुधार कराने, खाता विभाजन कराने आदि से संबंधित आवेदन कलेक्टर श्रीमती कौशल को सौंपे। कलेक्टर ने विभागीय अधिकारियों के सहयोग से मौके पर ही 654 आवेदनों का निराकरण कर लिया और शेष आवेदनों के निराकरण के लिए समय सीमा निर्धारित की।

कलेक्टर ने शिविर को सम्बोधित कर ग्रामीणों को शिविर के माध्यम से शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी लेने और उसका लाभ उठाने प्रेरित किया। शिविर में विभागीय अधिकारियों द्वारा शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी ग्रामीणों को दी। इस अवसर पर एस.डी.एम. हरेश मण्डावी, सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधि, विभिन्न विभागों के अधिकारी-कर्मचारी और बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

Tags
Back to top button