अमेरिका ने चेताया, आतंकियों को संरक्षण देने पर काफी कुछ गंवा सकता है पाक

पाकिस्तान अमेरिका के साथ साझेदारी से काफी कुछ हासिल कर सकता है

अमेरिका ने चेताया, आतंकियों को संरक्षण देने पर काफी कुछ गंवा सकता है पाक

अमेरिका ने आतंकियों को सुरक्षित पनाहगाह मुहैया कराने को लेकर पाकिस्तान के खिलाफ सख्त रुख अपना लिया है। उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा है कि अपनी सरजमीं पर तालिबान और दूसरे आतंकी संगठनों को ठिकाना उपलब्ध कराने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को नोटिस पर रखा है। पेंस अघोषित यात्रा पर अचानक अफगानिस्तान पहुंचे। यहां बगराम एयरबेस पर पेंस ने अमेरिकी सैनिकों से कहा, ‘लंबे समय से पाकिस्तान तालिबान और दूसरे आतंकवादी संगठनों को पनाह देता आ रहा है, लेकिन अब वे दिन अब लद गए हैं।’

सैन्य साजोसामान और क्रिसमस सजावट के बीच करीब 500 जवानों को संबोधित करते हुए पेंस ने साफ कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप ने पाकिस्तान को नोटिस पर रखा है। पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी देते हुए उपराष्ट्रपति ने कहा, ‘राष्ट्रपति ने कहा है इसलिए मैं कह सकता हूं कि पाकिस्तान अमेरिका के साथ साझेदारी से काफी कुछ हासिल कर सकता है लेकिन अपराधियों और आतंकियों को संरक्षण देने पर उसे काफी कुछ गंवाना पड़ सकता है।’

गौरतलब है कि भारत और अफगानिस्तान में आतंकी हमलों को लेकर हमेशा पाकिस्तान में मौजूद आतंकियों की ही भूमिका सामने आती है, अब अमेरिका पाकिस्तान पर दबाव बढ़ा रहा है। उन्होंने आगे कहा, ‘हमने सशस्त्र बलों की क्षमता को सीमित करने वाली अड़चनें हटा दी हैं। इसके प्रभाव आप समझ सकते हैं। राष्ट्रपति ने दुश्मन के खिलाफ पूर्ण और प्रभावी जंग का ऐलान किया है।’

पेंस ने जवानों से कहा कि ट्रंप प्रशासन ने अपने सैनिकों को नए अधिकार दे दिए हैं, जिससे वे आतंकियों को, वे जहां कहीं भी हों, ढूंढकर तबाह कर सके। पेंस ने जवानों से कहा, ‘मेरा विश्वास है कि पहले की तुलना में अब जीत नजदीक है। आप सभी की वजह से हम सुरक्षित हैं। आपकी वजह से अफगानिस्तान, अमेरिका और दुनियाभर में लोग सुरक्षित हैं।’

advt
Back to top button