अंतर्राष्ट्रीय

दामाद की कंपनी को मिले ‘बड़े लोन’ पर घिरे ट्रंप

मामले की जांच में जुटा व्हाइट हाउस

वाशिंगटन : व्हाइट हाउस अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दामाद जेरेड कुश्नर की पारिवारिक रियल एस्टेट कंपनी को 50 करोड़ डॉलर (करीब 3242 करोड़ रुपए) का ऋण मिलने के मामले की जांच कर रहा है। यह पता लगाया जा रहा है कि क्या इस मामले में आचार संहिता या आपराधिक कानून का उल्लंघन किया गया है। सरकारी आचार विभाग के कार्यवाहक निदेशक डेविड जे. एपोल ने सांसद राजा कृष्णमूर्ति को लिखे पत्र में कहा कि व्हाइट हाउस वकील कार्यालय ने उन्हें इस मामले की जांच करने की जानकारी दी है। कृष्णमूर्ति ने एक मार्च को एपोल से कुश्नर की कंपनी को ऋण देने की न्यूयार्क टाइम्स में छपी रिपोर्ट के बारे में पूछा था। रिपोर्ट के मुताबिक, कुश्नर की कंपनी को पिछले साल अपोलो ग्लोबल मैनेजमेंट से 18.4 करोड़ डॉलर (करीब 1193 करोड़ रुपये) और सिटीग्रुप से 32.5 करोड़ डॉलर (करीब 2108 करोड़ रुपए) का ऋण मिला था।

ट्रंप के प्रमुख सलाहकार हैं कुश्नर

ऐसा इन कंपनियों के अधिकारियों के साथ कुश्नर की मुलाकात के कुछ समय बाद ही हुआ। कुश्नर ट्रंप के दामाद होने के साथ-साथ उनके प्रमुख सलाहकार भी हैं। वह घरेलू और विदेशी मामलों के नीतिगत फैसलों में अहम भूमिका निभाते हैं। कुश्नर के वकील एबी लॉवेल ने ऋण मामले में कुश्नर द्वारा फायदा उठाए जाने से इन्कार किया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.