उत्तर कोरिया को समझाने के लिए चीन पर दबाव डालेंगे ट्रंप

अगले महीने चीन की यात्रा पर आ रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने समकक्ष शी जिनपिंग से उत्तर कोरिया को समझाने के लिए दबाव बनाएंगे। व्हाइट हाउस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी।

अधिकारी ने कहा कि उत्तर कोरियाई मसले को सुलझाने में चीन की मदद का लिया जाना अमेरिकी रणनीति का हिस्सा है। इस यात्रा के दौरान ट्रंप का फोकस परमाणु और बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षण के मसलों पर उत्तर कोरिया को अलग-थलग करना भी है।

यही नहीं ट्रंप अपने चीनी समकक्ष से उत्तर कोरिया के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र के सभी प्रस्तावों मुकम्मल तौर पर लागू करने की अपील कर सकते हैं। उत्तर कोरिया पर अधिक दबाव बनाया जा सके इसके लिए वे जिनपिंग से दूसरे कदमों को उठाने का आग्रह भी कर सकते हैं।

बता दें कि उत्तर कोरिया का इकलौता सहयोगी चीन है जो अलग-थलग पड़े इस देश से 90 फीसदी तक व्यापार करता है। ट्रंप की यात्रा से पहले चीन ने भी सकारात्मक संदेश दिया है।

उसने कहा है कि वह संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रतिबंधों को कड़ाई से लागू करेगा। यही नहीं उसने भरोसा भी दिया है कि उत्तर कोरिया से तेल, कोयला, कपड़ा और समुद्री खाद्य पदार्थों के व्यापार पर रोक लगी रहेगी।

उत्तर कोरियाई खतरे के मद्देनजर दक्षिण कोरिया, अमेरिका और जापान ने मंगलवार से दो दिवसीय मिसाइल ट्रैकिंग ड्रिल की शुरुआत कर दी है। दक्षिण कोरियाई सेना ने एक बयान जारी कर यह जानकारी दी है। बयान के मुताबिक, यह युद्धाभ्यास दक्षिण कोरिया और जापान के तटीय इलाकों में होगा।

advt
Back to top button