टीएस दिल्ली पहुंचे, मंत्रियों की सूची लेकर आज दिल्ली जा सकते हैं सीएम

अंकित मिंज

बिलासपुर।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंत्रिमंडल विस्तार की तैयारियां शुरु कर दी है। मुख्यमंत्री संभावित मंत्रियों के नाम की सूची लेकर गुरुवार को दिल्ली रवाना होगें। वहीं टीएस सिंह बुधवार को शाम पांच बजे की फ्लाईट से दिल्ली पहुंच गए हैं।

मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर पेंच फंसता नजर आते देख गेंद राहुल गांधी के पाले में डाल दी गयी है। अब मंत्रियों के नामों की सूची को कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के सामने रखा जाएगा। बताया जाता है 24 दिसम्बर के पहले मंत्रियों का नाम फाइनल कर लिया जाएगा। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस चुनाव जीतने के बाद मुख्यमंत्री के फंसे पेंच को जैसे-तैसे कर सुलझा लिया और बघेल को मुख्यमंत्री बनाने के बाद दो दिग्गज नेताओं को मंत्री बना दिया गया ,लेकिन विभाग नहीं दिया गया है। कांग्रेस अनेक दिग्गज नेता चुनाव जीत कर आए हैं।

मुख्यमंत्री के पद की तरह अब मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले नेताओं के दो गुट हैं। इनमें से ८ दिग्गज नेता मंत्री बनने के लिए जोर आजमाइश कर रहे हैं। वहीं दूसरा गुट जिनमें पहली बार चुनाव जीते और युवा नेता शामिल हैं, वे लोग अपने नाम के लिए लॉबिंग कर रहे हैं और मंत्रिमंडल विस्तार के लिए संभाग के हिसाब से विधायकों को शामिल करने की मांग कर रहे हैं। इसमें जिला वार भी मंत्री बनाने की मांग की जा रही है। मंत्री बनने के लिए दावेदारी करने वाले विधायकों की फेहरिस्त भी काफी लंबी है, ऐसे में सभी को संतुष्ट करना काफी चुनौती भरा रहेगा।

इसे देखते हुए अब प्रदेश के मंत्रिमंडल विस्तार में शामिल होने वाले विधायकों का फैसला दिल्ली में होगा। भूपेश बघेल संभावित मंत्रिमंडल की सूची लेकर गुरुवार को दिल्ली रवाना होंगे, जहां सूची में मंथन के बाद मंत्रिमंडल की लिस्ट को हरी झंडी दिखा दी जाएगी। भूपेश बघेल मुख्यमंत्री बनने के बाद पीसीसी चीफ के पद खाली है। मई में लोकसभा चुनाव है, इसे देखते हुए ज्यादा दिन तक इस पद को खाली नहीं रखा जा सकता है।

दिल्ली में होने वाली बैठक में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष को लेकर भी चर्चा की जाएगी। जीते हुए विधायक में से किसी को पीसीचीफ की जिम्मेदारी दी जा सकती है। कांग्रेस नेताओं द्वारा डा. महंत को विधानसभा अध्यक्ष बनाने की बात कही जा रही है। वहीं टीएस सिंह देव वित्त मंत्रालय लेने के मूड में नहीं है उनका पसंदीदा विभाग गृह विभाग है। वहीं ताम्रध्वज साहू को कृषि दिया जा सकता है। नगरीय प्रशासन विभाग , राजस्व के लिए कई विधायक लाइन में लगे हैं।

संभावित दावेदार

डॉ. सीडी महंत – विधानसभा अध्यक्ष
सत्यनारायण शर्मा – रायपुर
रविंद्र चौबे -बेमेतरा
धनेंद्र साहू – रायपुर
शिव डहरिया – रामपुर
अमितेष शुक्ल – रायपुर
उमेश पटेल – रायगढ़
कवासी लखमा -सुकमा
मोहम्मद अकबर – कवर्धा
अमरजीत भगत- अम्बिकापुर
खेलसाय सिंह – सूरजपुर
अरुण वोरा – दुर्ग
शैलेश पाण्डेय- बिलासपुर
प्रेमसाय टेकाम- बलरामपुर
लखेश्वर बघेल- बस्तर
अनिला भेडयि़ा – बेमेतरा

advt
Back to top button