मां और बेटे की हत्या मामले में खुलासा, दो आरोपी गिरफ्तार

रायगढ़।

खरसिया थाना क्षेत्र के ग्राम चोड़ा में एक महिला व उसके पांच साल के पुत्र की हत्या हुई थी पर उसका कारण अज्ञात था. घटना को अंजाम देकर आरोपी फरार हो गया था. इस मामले को सुलझाते हुए पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

मामले का खुलासा करते हुए पत्रकारवार्ता में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौड़ ने बताया कि 17 जुलाई को ग्राम चोड़ा निवासी जगनमती व उसके पांच वर्षिय पुत्र जीतू की किसी ने अज्ञात कारणों से धारदार हथियार से हत्या कर दी थी और फरार हो गया था. जब सुबह मामले की जानकारी मृतका के पति वीरसिंह को लगी तो घटना की सूचना पुलिस को दी गई.

मामले में पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ धारा 302, 201 के तहत अपराध कायम कर मामले में जांच शुरू की थी. जहां पूछताछ में पता चला कि 17 जुलाई को जगनमती का पति व धनसिंह अपने पिता के इलाज के लिए अस्पताल गए थे.

इसी दौरान गांव में रहने वाला संदीप राठिया जो पहले से इनके घर से परिचित था, उसका अवैध संबंध जगनमती व उसकी जेठानी लक्ष्मी राठिया के साथ हो गया था.

घटना वाले दिन आरोपी लक्ष्मी राठिया के कमरे में था, इसी दौरान जगनमती ने उन्हें देख लिया. इसके बाद जगनमती शोर मचाने की बात कहने लगी तो दोनों ने मिलकर उसे खूब मारा और संदीप ने कुल्हाड़ी से जगनमती के सिर पर प्राणघातक वार कर दिया और इसके बाद लक्ष्मी ने भी टांगी से वार करने के बाद उन्होंने गला दबा कर उसकी हत्या कर दी.

इस दौरान उसका पांच साल का बेटा जीतू जाग गया और पूरी घटना को अपनी आंखों से देख दिया था. आरोपी इस बात से भयभीत हो गए कि कहीं जीतू सारी बातें लोगों को बता न दे इसलिए उन्होंने उसकी भी गला दबाकर हत्या कर दी. मामले में दोनों आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

Back to top button