छत्तीसगढ़

धरमजयगढ़-आमापाली उठाईगिरी में नट गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार

लूट की रकम व घटना में प्रयुक्त मोटर सायकल जप्त, आरोपीगण भेजे गये रिमांड पर

हिमालय मुखर्जी ब्यूरो चीफ रायगढ़

पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह के दिशा निर्देशन पर एसडीओपी धरमजयगढ़ सुशील नायक द्वारा धरमजयगढ थानाक्षेत्र में घटित लूट के मामले में अज्ञात आरोपियों की पतासाजी के लिये थाना प्रभारी धरमजयगढ़ निरीक्षक अंजना केरकेट्टा व स्टाफ के साथ लगातार संदिग्धों की धरपकड़ कर पूछताछ की जा रही है, इन संदिग्धों की अन्य सम्पत्ति संबंधी अपराधों में शामिल होने की जानकारी मिल रही है ।

जानकारी के अनुसार धरमजयगढ़ पुलिस द्वारा संदिग्धों की पूछताछ के क्रम में नट गिरोह के कुछ सक्रिय सदस्यों को थाना लाकर थानाक्षेत्र में घटित लूट, चोरी के संबंध में कड़ी पूछताछ किया गया। जिसमें अनिल नट व सुनील नट निवासी कटरजा, कापू द्वारा धरमजयगढ़ अन्तर्गत आमापाली में दिनांक 25/12/2020 के शाम एक गल्ला किराना व्यापारी के रूपयों से भरे थैला की उठाईगिरी करना कबूल किये । थाना धरमजयगढ़ में इस उठाईगिरी के संबंध में अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध दिनांक 28/12/2020 को अप.क्र. 248/2020 धारा 379 IPC दर्ज कर विवेचना की जा रही थी।

यह भी पढ़ें : – अरपा महोत्सव के अवसर पर दिव्यांग छात्रों के लिए रंगोली और चित्रकला प्रतियोगिता का किया गया आयोजन

आरोपियों द्वारा उठाईगिरी में 30,000 रूपये नगदी थैला से मिलना बताये जिसको दोनों आपस में बांट लिये थे। आरोपियों के मेमोरंडम पर 5,000 रूपये नकद एवं घटना में प्रयुक्त मोटर सायकल CD डिलक्स CG12-L-3972 बरामद किया गया है। उठाईगिरी की घटना के संबंध में प्रार्थी राजकुमार अग्रवाल निवासी घरघोडा हनुमान चौक पांडे गली द्वारा थाना धरमजयगढ़ में रिपोर्ट दर्ज कराया गया था कि दिनांक 25.12.2020 को शाम करीब 05.50 बजे आमापाली में गल्ला किराना का दुकान के बाहर दुकान को बंद कर शाल पेड के पास आग जलाकर बस का इंतजार कर रहा था उसी बीच कोई अज्ञात व्यक्ति शाल पेड के पास नीचे रखा थैला को उठाकर कहीं भाग गया था ।

आरोपी 1- अनिल नट पिता कैलाश प्रसाद नट 20 वर्ष 2 सुनील नट पिता कैलाश प्रसाद नट 22 साल दोनों निवासी कटरजा थाना कापू के अपराध कबूलनामा, जप्ती आदि कार्यवाही बाद को रिमांड पर भेजा गया है । आरोपियों की गिरफ्तारी, मशरूका की बरामदगी में टी.आई. अंजना केरकेट्टा के हमराह उप निरीक्षक प्रवीण मिंज, सहायक उप निरीक्षक पुरन सिंह सिदार, प्रधान आरक्षक लक्ष्मी कैवर्त, आरक्षक धनेश्वर उरांव एवं राजेन्द्र राठिया की अहम भूमिका रही है ।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button