विधानसभा से त्यागपत्र दे सकते हैं बीजेपी के दो नवनिर्वाचित विधायक

दोनों को सांसद के रूप में काम करने का निर्देश मिला

कोलकाता:बीजेपी के दो नवनिर्वाचित विधायक विधानसभा से त्यागपत्र देने के संकेत मिल रहे हैं. शांतिपुर के जगन्नाथ सरकार और दिनहाटा सीट के बीजेपी विधायक निसिथ प्रमाणिक के विधायक पद छोड़ने की खबर आई है.

अगले 15 दिनों में दोनों अपना इस्तीफा विधानसभा अध्यक्ष बिमान बनर्जी को सौंप सकते हैं. दरअसल, दोनों को सांसद के रूप में काम करने का निर्देश मिला है. जिसके बाद दोनों ने विधायकी पद छोड़ने का फैसला लिया है.

पश्चिम बंगाल विधानसभा में पांच सीटें होंगी खाली

जगन्नाथ सरकार और निसिथ प्रमाणिक की बात करें तो दोनों ने साल 2019 के लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी. जगन्नाथ सरकार ने राणाघाट और निसिथ प्रमाणिक ने कूच बिहार की लोकसभा सीट से जीत हासिल की थी. बीजेपी के इन दोनों विधायकों के इस्तीफे के बाद पश्चिम बंगाल विधानसभा में कुल पांच सीटें खाली हो जाएंगी.

जबकि, जंगीपुर और शमशेरगंज सीट पर एक-एक प्रत्याशियों की कोरोना से मौत के बाद चुनाव स्थगित कर दिया गया था. अब, इन सीटों पर 16 मई को वोटिंग होगी. वहीं, उत्तर 24 परगना के खारदा से चुनाव जीते टीएमसी के काजल सिन्हा की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई थी. इस कारण सदन में पांच सीटें खाली हो जाएगी.

आठ चरणों में वोटिंग के बाद 2 मई को रिजल्ट

बंगाल विधानसभा चुनाव की बात करें तो इस बार आठ चरणों में वोटिंग हुई थी. आठ चरणों की वोटिंग के दौरान हिंसा की कई घटनाएं सामने आई. चौथे फेज की वोटिंग के दौरान शीतलकुची में सीआईएसएफ की फायरिंग में चार लोगों की मौत हो गई थी. इस पर आज भी हंगामा हो रहा है.

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजे दो मई को निकले थे. इसमें टीएमसी को 213 और बीजेपी को 77 सीटें मिली थी. एक-एक सीट निर्दलीय और राष्ट्रीय सेक्युलर मजलिस पार्टी के खाते में गई थी. बड़ी बात यह है कि लेफ्ट और कांग्रेस का चुनावी रिजल्ट में सफाया हो गया था.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button