छत्तीसगढ़

एसईसीएल कुसमुंड़ा परियोजना में एक कर्मचारी की दो-दो जन्मतिथि, जबरन करे रहे रिटायर

सर्विस बुक में छेड़छानी के मामले में अफसर है मौन

ब्रिज किशोर

कटघोरा/पोडी उपरोड़ा:

एसईसीएल कुसमुंड़ा परियोजना में कार्यरत मेकेनिकल फीटर केटेगरी.5 तुलसी यादव के सर्विस पूर्ण जन्म तिथि दर्शा कर जबरन सेवा मुक्ति का प्रमाण पत्र थमाए जाने का मामला सामने आया है। विभागीय कार्यवाही से सकते में आए तुलसी यादव ने महाप्रबंधक एसईसीएल कुसमुंड़ा परियोजना को पत्र लिखकर सर्विस बुक में की गई छेडछानी की शिकायत कर सर्विस बुक में उसकी वास्तविक जन्म तारीख दर्ज करने की मांग की गई है।

कुसमुंड़ा परियोजना में कार्यरत मेकेनिकल फीटर केटेगरी.5 तुलसी यादव पिता रघुनाथ यादव एम्पलाई नंबर 21432687 ने महाप्रबंधक कुसमुंड़ा परियोजना, उप महाप्रबंधक कुसमुंड़ा परियोजना, वरिष्ठ कार्मिक अधिकारी कुसमुंड़ा परियोजना को पत्र लिखकर जानकारी दी है कि उसके सर्विस बुक में उसकी जन्म तिथि अलग.अलग ​दर्ज की गई है।

कुछ दास्तावेजों में उसकी जन्म​ तिथि 04/06/1960 दर्ज गई है तो कुछ दस्तावेजों में 23/11/1950 दर्ज की गई है; तुलसी यादव का कहना है कि विभागीय दस्तावेजों में एक ही कर्मचारी के जन्म ति​थि अलग.अलग कैसे दर्ज हो सकती है। तुलसी यादव ने अपनी परेशानी क्लिपर28 को बताते हुए कहा कि उसे अब उसे उसकी जन्म तारीख 23/11/1950 बता कर जबरन सेवा मुक्ति का प्रमाण जारी किया जा रहा है। जो उसके मौलिक अधिकार का हनन है।

तुलसी यादव ने महाप्रबंधक एसईसीएल कुसमुंड़ा परियोजना का आवेदन सौंपते हुए गुहार लगाई है कि उसे इस बात की लिखित जानकारी दी जाए कि विभाग उसे किस आधार पर सेवा मुक्त करना चाहता है, ताकि वो अपने हक के लिए आगे की वैधानिक कार्यवाही कर सके। बता दें कि विभागीय अधिकारी इस मामले में कुछ भी कहने से बच रहे हैं।

01 Jun 2020, 6:43 AM (GMT)

India Covid19 Cases Update

198,317 Total
5,608 Deaths
95,714 Recovered

Tags
Back to top button