घटिया सड़क और तेज रफ्तार की भेंट चढ़े दो ग्रामीण युवक

एक बाइक सवार घटना स्थल पर दूसरा अस्प्ताल लाने की दौरान खत्म हुआ..

– ऋषिकेश मुखर्जी

रायगढ़: सड़क हादसों को लेकर बदनाम हो चुकी रेगालपाली नेशनल हाइवे सड़क के घटिया निर्माण और उस पर तेज रफ्तार की कहर आज बाइक सवार दो ग्रामीण युवको पर टूट पड़ी। प्रत्यक्षदर्शियों के बताए अनुसार ग्राम झलमला निवासी दो बाइक सवार युवक जय पटेल पिता दुर्गा पटेल और मंथन चक्र पिता गिरधारी चक्र दोनो की उम्र करीब 20 साल अपनी पल्सर बाइक से ग्राम झलमला से ग्राम लहंगपाली जाने के लिए निकले थे।

तभी अपनी गति से चल रही पल्सर बाइक का संतुलन नवनिर्मित घटिया नेशनल हाइवे सड़क पर उभर आए जानलेवा गड्ढों में पड़ कर बिगड़ गई लड़खड़ाती बाइक सम्हल पाती तब तक विपरीत दिशा से आ रही लोहा लदी तेज रफ्तार ट्रेलर क्रमांक R J 42 G A 0834 उनसे आ टकराई। इस टकराव से जहां बाइक तो पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई।

वहीं घटना स्थल पर ही बाइक सवार युवक जय पटेल की दर्दनाक मौत हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि हादसा इतना गम्भीर था कि दूसरा आहत बाइक सवार युवक मंथन चक्र अस्पताल ले जाने के दौरान बीच रास्ते मे ही खत्म हो गया। हादसे के बाद नाराज ग्रामीण सड़क पर उतरे घण्टे भर चक्का जाम किया, तब प्रसाशन पहुंचा इधर निरन्तर हो रहे सड़क हादसो के बाद इस घटना को लेकर स्थानीय ग्रामीण नाराज हो गए,बड़ी संख्या में वे लोग सड़कों पर उतर आए।

ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग को लेकर घण्टे भर का चक्का जाम कर दिया। जिसकी सूचना मिलते ही घटना स्थल पर तहसीलदार के सांथ जुट मिल चौकी पुलिस पहुंची। उनके द्वारा तत्काल मृतक के परिजनों को 25 हजार रुपये की मुआवजा राशि प्रदान की गई।

जबकि दूसरा आहत युवक जिला अस्पताल भेजा गया। जिसकी रास्ते मे ही मौत हो गई। प्रशासन की समझाइस के बाद ग्रामीणों ने सड़क पर आवागमन सामान्य किया। इधर स्थानीय ग्रामीणों ने प्रेस को बताया कि जब से यह सीमेंट निर्मित नेशनल हाइवे सड़क का घटिया एवं गुणवत्ता हीन निर्माण हुआ है तब से लगातार हादसे हो रहे है।

सड़क पर कई जगह आधा अधूरा निर्माण छोड़ा गया है और कई जगहों में जानलेवा गड्ढे उभर आए है। जो नियमित जानलेवा हादसों के सबब बन रहे है। अकेले रेगाल पाली से दर्रा-मुड़ा के बीच पांच महीनों में 8 बड़ी दुर्घटना घट चुकी है। जिसमे 7 लोगो की जान जा चुकी है। यह घटना अतिरिक्त है।

Back to top button