दो खाल तस्कर गिरफ्तार

गरियाबंद: गरियाबंद जिला पुलिस ने बाघ की खाल के साथ दो तस्करों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से खाल जब्त की गई है। खाल की अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कीमत लाखों में है।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नेहा पाण्डेय ने कहा कि, 14 फरवरी को मुखबिर से सूचना मिली थी कि कुछ लोग खाल तस्करी के फिराक में हैं। आरोपी मेघनाथ नेताम (38) निवासी कुकनार थाना मैनपुर और कवल सिंह (28) जरण्डी थाना मैनपुर को गिरफ्तार किया गया। आरोपियों के पास से बाघ की 1 नग खाल जब्त की गई है।

उन्होंने ने कहा कि, काफि दिनों से इन क्षेत्रों में खाल की तस्करी की सूचना पुलिस को मिल रही थी। इसी सूचना पर क्राईम स्क्वाड ने खरीददार बनकर यह कार्रवाई की। चूंकि कुकरार नक्सल प्रभावित क्षेत्र है और यहां आवागमन के साधन सिमित हैं, इसलिए धवलपुर के आसपास के क्षेत्र में बाघ की खाल के लेनदेन का सौदा तय किया गया। जरण्डी नाला के पास घेरबंदी कर खाल के साथ गिरफ्तार किया गया।

एएसपी पाण्डेय ने कहा कि, इसके पूर्व भी छुरा, पीपरछेड़ी, मैनपुर में वन्य प्राणियों की तस्करी के मामले पकड़े गए हैं। किन्तु राष्ट्रीय पशु बाघ (शेर) की खाल की तस्करी का यह पहला मामला है। उन्होंने कहा कि गरियाबंद जिला की सरहदी सीमा उड़ीसा राज्य से लगती है, इसलिए यहां गांजा, खाल तस्करी, नक्सलियों और अन्य आरोपियों के आश्रय की अधिक संभावना रहती है। गरियाबंद पुलिस की ओर से संबंधित मामलों में इन तथ्यों को संज्ञान में लेते हुए लगातार तस्करों के विरूद्ध कार्रवाई की जा रही है। भविष्य में भी इस प्रकार की कार्रवाई जारी रहेगी।

new jindal advt tree advt
Back to top button