छत्तीसगढ़

जिला अस्पताल के काउंटर में पर्ची को लेकर दो महिलाओं की आपस में झड़प

अंकित राजपूत :

बिलासपुर-

जिला अस्पताल में पहले पर्ची कटवाने की कोशिश में महिलाएं आपस में भिड़ गईं। करीब एक घंटे तक उनके बीच झड़प होती रही। इसके बाद सुरक्षा कर्मियों के पहुंचने पर स्थिति सामान्य हुई। बुधवार की सुबह नौ बजे ओपीडी शुरू होते ही मरीजों का आने का सिलसिला शुरू हो गया।

दोपहर 12 बजे तक 200 से ज्यादा लोग पर्ची के लिए लाइन में खड़े हो गए। महिलाओं की लाइन भीड़ की वजह से अव्यवस्थित हो गई। काउंटर में पहले पहुंचने के लिए महिलाएं धक्का मुक्की करने लगीं।

इसे लेकर विवाद होने लगा। महिलाओं की बीच बार-बार झड़प होने से दूसरे लोग भी ओपीडी हाल में जमा हो गए। इससे व्यवस्था और भी बिगड़ गई। लगभग एक घंटे बाद सुरक्षाकर्मियों ने महिलाओं को समझाइश देकर स्थिति को सामान्य किया।

पर्ची काटने के लिए तीन खिड़की बनाई गई है। इसमे एक सीनियर सिटीजन के लिए है। एक अन्य खिड़की महिलाओं को सुविधा दी जाती है। जिला अस्पताल में बड़ी संख्या में महिलाएं पहुंचती हैं। उनके लिए सिर्फ एक काउंटर होने से पर्टी कटाने में काफी समय लग जाता है। ऐसे में महिलाएं काउंटर तक पहले पहुंचने की कोशिश में आपस में भिड़ जाती हैं।

यहां लगभग एक से डेढ़ घंटे पर्ची कटवाने में लग जाते हैं। इतना ही समय डॉक्टर का इंतजार करना पड़ता है। तब कहीं जाकर उपचार हो पाता है। इस तरह उपचार कराने में दो से तीन घंटे लग जाते हैं। यह स्थिति पिछले एक साल से बनी हुई है।

मामले की जानकारी नहीं है। भीड़ होने पर थोड़ी बहुत परेशानी होती है। नए काउंटर बनाने पर विचार किया जा रहा है।
डॉ. एसएस भाटिया
सिविल सर्जन

Tags
Back to top button