बोरवेल में गिरने के चार दिन बाद 2-वर्षीय सुजीत विल्सन ने गवाई अपनी जान

सुजीत विल्सन को सकुशल बाहर निकाला नही जा सका

तमिलनाडु: नादुकट्टपट्टी, तिरुचिरापल्ली में 2-वर्षीय सुजीत विल्सन 25 अक्टूबर को बोरवेल में गिरने के बाद उसे सुरक्षित बाहर निकालने के लिए शासन-प्रशासन के द्वारा सभी संभव उपाय किए गए

व् शासन के विभिन्न मंत्री व् अधिकारी इस घटना की पल-पल जानकारी लेते रहे पर सुजीत विल्सन को सकुशल बाहर नही निकाला जा सका जहां 2 वर्षीय सुजीत विल्सन को बोरवेल में फंसे हुए 52 घंटे से अधिक समय हो गया है.

25 अक्टूबर को एक बोरवेल में गिरने के बाद 2-वर्षीय सुजीत विल्सन नेअपनी जान गंवा दी, उसके शव को नादुकट्टुपट्टी स्थित उनके निवास पर ले जाया गया. प्रमुख सचिव, परिवहन विभाग के जे राधाकृष्णन का कहना है कि सुजीत विल्सन का शरीर अब विघटित अवस्था में है. हमने उसे बचाने की पूरी कोशिश की लेकिन दुर्भाग्य से बोरवेल से दुर्गंध आने लगी है जिसमें बच्चा गिर गया था. फिलहाल, खुदाई प्रक्रिया बंद कर दी गई है।

Back to top button