यूएफा चैंपियंस लीग: स्पेनिश फुटबॉल क्लब एटलेटिको मैड्रिड का दमदार प्रदर्शन

इस जीत के साथ स्पेनिश क्लब ने क्वार्टर फाइनल में पहुंचने की ओर अपने कदम मजबूत किए।

स्पेनिश फुटबॉल क्लब एटलेटिको मैड्रिड ने यहां दमदार प्रदर्शन करते हुए अपने घर में सुपरस्टार स्ट्राइकर क्रिस्टियानो रोनाल्डो और उनकी टीम जुवेंटस को चौंकाते हुए यूएफा चैंपियंस लीग के अंतिम-16 के पहले दौर का मुकाबला 2-0 से जीत लिया।

वार विवादों में

एटलेटिको मैड्रिड के लिए दोनों गोल दूसरे हाफ में जोस जिमिनेज और डिएगो गोडिन ने दागे। इस जीत के साथ स्पेनिश क्लब ने क्वार्टर फाइनल में पहुंचने की ओर अपने कदम मजबूत किए।

मैच में दो बार वीडियो सहायक रेफरी (वार) तकनीक का इस्तेमाल किया गया, लेकिन यह भी विवादों में रहा।

पहली बार वार का फैसला जुवेंटस के पक्ष में गया और डिएगो कोस्टा के फॉल के कारण मैड्रिड को मिलने वाली पेनल्टी को रद्द कर दिया गया|

जिसका विरोध मैड्रिड के खिलाड़ी करते नजर आए। इसके अलावा स्थानापन्न खिलाड़ी के रूप में दूसरे हाफ में मैदान पर आए स्ट्राइकर अल्वारो मोराटा ने 18 गज के बॉक्स के अंदर से गेंद को गोल बॉक्स में डाला|

लेकिन रेफरी ने वार की मदद लेने के बाद उसे नकार दिया। मैच में सभी को रोनाल्डो से गोल की उम्मीद थी, लेकिन इस बार उनके पैरों का जादू नहीं चल पाया।

उनके लिए यह मैच काफी निराशाजनक रहा। उन्होंने 30 गज से फ्री किक पर गेंद को किक किया, लेकिन जुवेंटस के गोलकीपर ने इसका अच्छा बचाव किया।

पहला हाफ गोलरहित रहा

मैच की शुरुआत में दोनों टीमों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली। दोनों टीमों ने पहले मिनट से ही आक्रामक रुख अपनाया।

पहले हाफ में गोल करने का सबसे बेहतरीन मौका स्ट्राइकर कोस्टा को मिला, लेकिन वह इटली लीग की गत चैंपियन जुवेंटस के गोलकीपर को भेदने में कामयाब नहीं हो पाए। पहला हाफ गोलरहित रहा।

दूसरे हाफ में दोनों गोल

एटलेटिको ने दूसरे हाफ की शुरुआत से ही मेहमान टीम के डिफेंस पर दबाव बनाया। जुवेंटस ने ज्यादातर गेंद अपने पास रखी, लेकिन मेजबान टीम ने गोल करने के अधिक मौके बनाए।

78वें मिनट में जिमिनेज ने बॉक्स के अंदर से गोल करके अपनी टीम का मैच में खाता खोल दिया। एक गोल से आगे होने के बाद एटलेटिको की टीम का आत्मविश्वास बढ़ गया|

पांच मिनट बाद डिफेंडर गोडिन ने महत्वपूर्ण गोल करते हुए मेजबान टीम की बढ़त को दोगुना कर दिया।

मैच समाप्त होने से पहले रोनाल्डो ने हेडर के जरिये गोल करने का प्रयास किया, लेकिन वह गेंद को गोल में डालने में कमायाब नहीं हो पाए और जुवेंटस यह मैच हार गया

इतना काफी नहीं

हमारे लिए अभी इतना काफी नहीं है। हमें अभी जुवेंटस के खिलाफ एक और मैच खेलना है और मुझे लगता है कि वह हमें परेशान कर सकते हैं- डिएगो सिमोन, मैनेजर, एटलेटिको मैड्रिड

हम आगे अच्छा करेंगे

मैं इस हार से निराश हूं, लेकिन आगे बढ़ने की उम्मीद बाकी है। हम अगले मैच में अच्छा प्रदर्शन करेंगे- मासिमिलियाने अलेग्री, मैनेजर, जुवेंटस

स्टर्लिंग के गोल से जीता मैनचेस्टर सिटी

गेलसेनकिर्चेन (जर्मनी)। रहीम स्टर्लिंग के अंतिम समय में दागे गोल की बदौलत 10 खिलाड़ियों के साथ खेल रहे मैनचेस्टर सिटी ने शाल्के को यूएफा चैंपियंस लीग में अंतिम-16 के पहले दौर के मुकाबले में 3-2 से हराया।

सिटी की टीम ने अंतिम पांच मिनट में दो गोल दागकर जीत सुनिश्चित की। स्टर्लिंग ने 90वें मिनट में विजयी गोल दागा।

पिछले तीन इंग्लिश प्रीमियर लीग के मैचों में दो हैट्रिक लगाने वाले सर्जियो अग्यूरो ने टीम को 18वें मिनट में बढ़त दिलाई।

शाल्के के नाबिल बेनतालेब ने 38वें मिनट में पेनल्टी पर गोल करके स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया।

इसके सात मिनट बाद ही नाबिल ने एक और गोल कर अपनी टीम को मैच में 2-1 से आगे कर दिया।

पहले हाफ तक शाल्के की टीम मैच में 2-1 से आगे रही। दूसरे हाफ में सिटी को 68वें मिनट के बाद से 10 खिलाड़ियों के साथ खेलने पर मजबूर होना पड़ा जब रेड कार्ड मिलने के कारण निकोलस ओटामेंडी को मैदान से बाहर जाना पड़ा।

इसके बाद स्थानापन्ना खिलाड़ी लेरॉय साने ने अपने पूर्व क्लब के खिलाफ फ्री किक पर 85वें मिनट में गोल दागकर सिटी को बराबरी दिलाई। दोनों टीमों के बीच दूसरे दौर का मुकाबला 12 मार्च को होगा।

Back to top button