अब आधार सेवा केंद्र बनाएगा UIDAI, 300-400 करोड़ रु की आएगी लागत

नई दिल्ली.

आधार कार्ड बनवाने से लेकर उसे अपडेट कराने के लिए अब आपको इधर-उधर भटकना नहीं पड़ेगा। अब यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) पासपोर्ट ऑफिस की तर्ज पर आधार सेवा केंद्र खोलने जा रहा है। पासपोर्ट सेवा केंद्रों की तरह ही आधार सेवा केंद्र के लिए पहले से अप्वाइंटमेंट लिया जा सकेगा और डॉक्युमेंट वेरिफेकेशन के बाद आधार बनवाने से लेकर अपडेट कराने की प्रक्रिया पूरी कराई जा सकेगी।

अप्रैल 2019 में चालू होने की है संभावना

UIDAI द्वारा 53 शहरों में इस तरह के आधार सेवा केंद्र खोलने की योजना है। इसमें से हर मेट्रो सिटी में चार और बाकी शहरों में दो-दो आधार सेवा केंद्र बनाए जाएंगे। इन आधार सेवा केंद्रों के अप्रैल, 2019 तक चालू होने की संभावना जताई गई है। इनके निर्माण पर 300 से 400 करोड़ का खर्च आने का अनुमान है।

रोजाना 4 लाख लोग कराते हैं अपडेट

बता दें कि अभी देशभर में करीब 30 हजार आधार केंद्र है, जो पोस्ट ऑफिस, बैंक और सरकारी सहायता से चलाए जा रहे हैं। लेकिन अब UIDAI अपने खुद के आधार केंद्र बनाएगा। एक अनुमान के मुताबिक रोजाना करीब 4 लाख लोग अपने आधार कार्ड और उससे जुड़ी डिटेल जैसे- आधार फोटो, मोबाइल नंबर को अपडेट कराते हैं।

Back to top button