कारेसरा पीएचसी के अंतर्गत 33 में से 30 गांवों में लगा शत् प्रतिशत टीका

बेमेतरा,28 नवंबर 2021। जिले के साजा ब्‍लॉक के प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र, कारेसरा सेक्‍टर में आने वाले 33 में से 30 गांव के ग्रामीणों को शत् प्रतिशत टीका लगाने में स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की टीम ने आज सफलता हासिल की है। यह सफलता टीके के प्रथम डोज को लगाने में मिली है|

वोटर लिस्ट के अनुसार इन 30 गाँव में 18 वर्ष आयु वर्ग की कुल संख्या 23036 है जिसमें से 19,189 को प्रथम डोज का टीकाकरण पूर्ण कर लिया गया है और 7,681 न द्वितीय डोजभी लिया है। योग्यता लिस्ट में से 2874 लोगपलायन कर बाहर हैं और 656 लोगोंकी मृत्यु हो चुकी है। तीन सौ सत्रह लोग टीकाकरण के लिए शारीरिक रुप से अक्षम पाए गए है।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार यह सफलता पाने में `हर-घर दस्तक’अभियान का महत्वपूर्ण योगदान रहा जिसमें लोगों को वैक्सीन लगवाने के फायदे बताए गए। कैंप लगाकर पूरे गांव में वैक्सीनेशन कराया गया। कई गांव के ग्रामीण व बुजुर्ग शुरुआती दौर में ग्रामीण वैक्सीन लगवाने से परहेज कर रहे थे जिसके बाद यहां के जनप्रतिनिधियों ने पंचायत के कर्मचारी व सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर ग्रामीणों द्वारा टीकाकरण न कराने का कारण जानने का प्रयास कर शंकाओं का समाधान किया गया। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, कारेसरा के अंतर्गत आने वाले सभी 33 गावों के संस्था प्रभारी डॉक्टर रवि कुमार वर्मा के मार्गदर्शन में कोरोना टीकाकरण महाभियान अंतर्गत घर- घर सर्वे कर टीकाकरण के लिए छूटे हितग्राहियों को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है।

सीएमएचओ डॉ प्रदीप कुमार घोष ने बताया कारेसरा पीएचसी के प्रभारी डॉ. रवि वर्मा के नेत्‍तृव में हर दिन 15 टीम में 90 लोग टीकाकरण दल बनाकर घर-घर पहुंच कर 100 प्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्‍य को हासिल किया। पीएचसी के अंतर्गत आने वाले गांवों के छूटे हुए लोगों का लाइन लिस्‍ट तैयार कर जिला प्रशासन के सहयोग से लोगों को प्रेरित कर टीका लगवाया गया। साजा ब्‍लॉक के कारेसरा सेक्‍टर के ग्राम बोरिया, घिवरी, हरदास, किरकी, पदुमसरा, कन्‍हेरा, कंदई, रम्‍पुरा, खुहलबोड़, कुर्रा, भुसंडी, सौरी, अकोला, कारेसरा, गर्रा, ओडिया, सुखाताल, समुदवारा, खैरा, पदमी, हरा सेमरिया, मातेसरा, रौद्रा, केदवई, हाड़ाहुली, खगौला, चिखली, बम्‍हनी व कुरुद के ग्रामीणों की जागरुकता से कोरोना के खिलाफ जारी टीका महाअभियान में सफलता मिली है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button