समझौते के तहत आईएस एक समूह ने दक्षिणी दश्मिक छोड़ा

नेशनल डेस्कः सीरिया की राजधानी में रविवार सुबह आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के पहले समूह ने समझौते के तहत अपने अंतिम गढ़ को छोड़ दिया है। यह समझौता कई हफ्ते तक चली भीषण लड़ाई के बाद हुआ। ब्रिटेन की सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के प्रमुख रमी अब्दुल रहमान ने कहा कि आईएस के लड़ाकों और उनके रिश्तेदारोंं ने यारमुक फलस्तीनी शरणार्थी शिविर और पास के तादामुन जिले को छोड़ दिया, जो छह बसों में सवार थे।

रहमान ने बताया कि सीरिया के विशान रेगिस्तान के लिए बसें पूर्व की तरफ रवाना हो गई हैं, जहां कुछ हिस्से पर आईएस का अब भी कब्जा है। उन्होंने इसका कोई ब्योरा नहीं दिया कि वाहनों में कितने लोग सवार थे, लेकिन उन्होंने कहा कि उनमें से अधिकतर जिहादियों के रिश्तेदार थे और उनके पास हथियार नहीं थे।

दक्षिणी दमिश्क से आईएस को खदेड़ने के लिए महीनेभर से जारी लड़ाई को खत्म करने के वास्ते हुए समझौते के दिन बाद हुआ। सरकार समर्थक बल, खासकर फलस्तीनी मिलिशिया आईएस के कब्जे से यारमुक, तादामुन और कदम व हाजर अल असवाद को छुड़ाने के लिए 19 अप्रैल से लड़ रहे थे। ऑब्जर्वेटरी के अनुसार, इस लड़ाई में 250 से अधिक शासन समर्थक सशस्त्रकर्मी और आईएस के 233 लड़ाके मारे गए।
<>

new jindal advt tree advt
Back to top button