राष्ट्रीय

माकपा और भाकपा के एकीकरण की पहल जारी-सीताराम येचुरी

नई दिल्ली: भाकपा और माकपा नेतृत्व ने दोनों वामदलों के एकीकरण को समय की मांग बताते हुए इस पहल को जल्द पूरा करने की जरूरत पर बल दिया है. माकपा नेता सीताराम येचुरी ने सोमवार को भाकपा द्वारा आयोजित ए बी बर्धन स्मृति व्याख्यान में दोनों दलों के एकीकरण की बात कही. येचुरी ने संविधान द्वारा प्रदत्त मौलिक अधिकार ‘अभिव्यक्ति की आजादी और मतभिन्नता के अधिकार’ विषय आयोजित व्याख्यान में कहा कि मौजूदा दौर में ये दोनों अधिकार सरकार के निशाने पर हैं.

येचुरी ने साधा बीजेपी पर निशाना
उन्होंने कहा कि विरोध की आवाज को दबाने के तीन साल से जारी सिलसिले से उपजे जनाक्रोश का अहसास सत्तारूढ़ भाजपा को हो गया है. इस वजह से मोदी सरकार की उल्टी गिनती शुरु होने की हकीकत से भी भाजपा नेतृत्व अनभिज्ञ नहीं है. इसीलिए भाजपा कार्यकारिणी की आज की बैठक में इस बात पर मंथन हो रहा है कि इन परिस्थितियों में विपक्ष को एकजुट होने से कैसे रोका जाए.

येचुरी ने बर्धन के निधन से पहले उनसे अपनी अंतिम मुलाकात को याद करते हुये बताया कि केन्द्र में मोदी सरकार बनने से चिंतित बर्धन ने उनसे पूछा था कि अब देश का भविष्य कैसा होगा. येचुरी ने कहा कि वामदलों के एकीकरण की जरूरत पर बल देते हुये तब मैंने उनसे कहा था ‘आपकी पीढ़ी ने दोनों दलों को तोड़ा था और अब हमारी पीढ़ी इन्हे जोड़ेगी.’

Related Articles

Leave a Reply