केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कांग्रेस पर बोला ये हमला ,जानें क्या कहा

घोटालों की वजह से यूपीए के प्रति जनता में आक्रोश था

नई दिल्ली : केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कांग्रेस पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि 2014 में घोटालों की वजह से यूपीए के प्रति जनता में आक्रोश था. उस समय नरेंद्र मोदी गुजरात के सीएम थे और उनके काम की प्रशंसा हो रही थी. उनके प्रति उम्मीद थी. इसीलिए बीजेपी को बड़ी सफलता मिली. पिछले पांच साल का काम यही मुद्दा होना चाहिए था. हम इसी पर बात करते रहे, लेकिन पीएम को लेकर गंदी टिप्पणियां की गईं. कांग्रेस ने जानबूझकर परफ़ॉर्मेंस और काम मुद्दा न बने, इसलिए डर पैदा किया गया. विकास के काम पर चर्चा न हो यह भी कोशिश की गई. छप्पन भोग की तरह करीब 56 गालियां दी गईं.

उन्होंने कहा कि 1971 में अटलजी ने इंदिराजी का समर्थन किया था, लेकिन कांग्रेस द्वारा राष्ट्रीय सुरक्षा का राजनीतिकरण किया गया. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद गालियां दी गईं. उन्होंने कहा कि न्याय की बात उसके साथ चिपक सकती है जिसकी साख हो. कांग्रेस की साख नहीं है. कांग्रेस और विपक्ष के नेता चुनाव का स्तर नीचे लेकर गए. गडकरी ने कहा कि पिछली बार जितनी सीटें मिली थीं उससे ज्यादा सीटें मिलेंगी और मोदी जी फिर पीएम बनेंगे.

अहमद पटेल के सवाल पर नितिन गडकरी ने कहा कि उस वक़्त कांग्रेस के समर्थन वाली सरकार थी. गृहमंत्री कांग्रेस का था. इसलिए सुरक्षा की जिम्मेवारी कांग्रेस की थी. बीजेपी का सवाल कहां से आ गया? उन्होंने कहा कि राहुल गांधी और सब मिलकर 23 तारीख के बाद केवल ये तय कर लें कि उनका प्रधानमंत्री कौन होगा. बात साफ हो जाएगी. ये विपक्ष के सौहार्द पूर्ण एकता के लिए केवल बीजेपी जिम्मेवार है. चुनाव के हार से पहले ये लोग बहाने शुरू कर दिए हैं.

Back to top button