छत्तीसगढ़राष्ट्रीय

केन्द्रीय राज्य मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी की कार को एनएच-16 पर किया गया ओवरटेक

ओवरटेक करने के चलते ओडिशा में 6 पर्यटकों को लिया गया हिरासत में

रायपुर:ओडिशा के राष्ट्रीय राजमार्ग 16 पर एमएसएमई राज्यमंत्री प्रताप चंद्र सारंगी के काफिले को दो कार ने ओवरटेक किया। वह कार बड़ी तेज़ी से राज्यमंत्री के काफिले से आगे निकली। जिसके चलते मंत्री ने एस्कॉर्ट गाड़ी को पर्यटकों की कार के पीछे लगा दिया।

ओवरटेक करने के चलते ओडिशा में 6 पर्यटकों को हिरासत में लिया गया. उन पर्यटकों से यह लिखवाया गया कि वे दोबारा ऐसी गलती नहीं करेंगे, उसके बाद ही उन्हें थाने से छोड़ा गया. यह घटना उस वक्त हुई जब संतोष शॉ, उनकी पत्नी, भाई और दो नाबालिग बच्चे बालासोर के पंचलिंगेश्वर से दो गाड़ियों में कालकाता आ रहे थे.

शॉ ने कहा- “बस्ता के नजदीक जब एनएच-16 पर सफर कर रहे थे तो हमने सायरन की आवाज सुनी और सोचा कि यह एंबुलेंस हो सकती है और उसे आगे जाने दिया. हालांकि, बाद में हमें पता चला कि यह मंत्री की गाड़ी है, जिसकी सुरक्षा में एक गाड़ी लगी थी. कुछ देर बाद सुरक्षा में लगी गाड़ी ‘कच्चा रोड’ पर चली गई और उसके बाद मैंने उसे ओवरटेक किया.”

हालांकि, मंत्री की पायलट कार ने पश्चिम बंगाल से लगती सीमा जालेशवर के लोकनाथ टोल गेट तक करीब 20 किलोमीटर तक दोनों गाड़ियों का पीछा किया. उसके बाद उन सभी को पांच घंटे तक हिरासत में लिया गया. केन्द्रीय मंत्री समीक्षा बैठक के लिए बस्ता में थे.

अशोक नायक, आईआईसी बस्ता पुलिस स्टेशन ने बताया- दो गाड़ियों की तरफ से ओवरटेक करने के बाद मंत्री ने पायलट गाड़ी से कहा कि वे उसे पकड़कर वापस लाएं. पायलट कार ने उन दोनों गाड़ियों को पकड़ा और उन्हें बस्ता पुलिस स्टेशन लेकर आई.

उसके बाद मोटर व्हीकल एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया और पीआर पर छोड़ा गया. इसके साथ ही, उन्होंने यह आश्वासन दिया कि दोबारा ऐसी गलती नहीं करेंगे. शॉ ने कहा- हम मंत्री की गाड़ी के नजदीक नहीं गए थे. यह हमारी गलती थी. मुझे यह नहीं पता था कि मंत्री की गाड़ी को ओवरटेक करना गलत है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button