छत्तीसगढ़

केन्द्रीय राज्यमंत्री श्रीमती रेणुका सिंह ने ली दिशा समिति की बैठक

शासन की महत्वपूर्ण योजनाओं की हुई समीक्षा

ब्युरो चीफ : विपुल मिश्रा

संवाददाता : शिव कुमार चौरासिया

  • विशेष पिछड़ी जनजातियों को शासकीय योजनाओं का पूरा लाभ मिले: रेणुका सिंह

बलरामपुर 11 सितम्बर 2020: जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक केंद्रीय राज्यमंत्री, जनजातीय कार्य मंत्रालय रेणुका सिंह की अध्यक्षता तथा समिति के सदस्यों की उपस्थिति में न्यू सर्किट हाउस बलरामपुर में आयोजित की गयी। बैठक में पूर्व निर्धारित 33 बिंदुओं में अधिकारियों के साथ विस्तृत चर्चा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।

कलेक्टर श्याम धावड़े द्वारा अभिवादन के साथ ही जिले की आधारभूत जानकारी देते हुए बैठक की शुरुआत की गई। केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह ने मनरेगा, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, दीनदयाल अंत्योदय योजना, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, स्वच्छ भारत मिशन, कोविड-19, प्रधानमंत्री आवास योजना, कृषि सिंचाई योजना, मध्यान्ह भोजन, खाद्यान्न वितरण, एकीकृत बाल विकास योजना तथा पेयजल योजना के संबंध में विभागीय अधिकारियों के साथ चर्चा कर जानकारी ली।

केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की समीक्षा करते हुए नए स्वीकृत सड़कों की जानकारी ली तथा गुणवत्तापूर्ण सड़क निर्माण करने के निर्देश दिए। समिति के सदस्यों द्वारा सड़क एवं पुलिया के क्षतिग्रस्त होने के कारण गांव से संपर्क प्रभावित होने की जानकारी देने पर तत्काल मरम्मत कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने मनरेगा से जुड़े कार्यों की जानकारी लेते हुए संचालित निर्माण कार्य, नियोजित मजदूरों की संख्या तथा भुगतान संबंधी जानकारी ली।

मनरेगा के मजदूरी भुगतान तथा मास्टररोल के संबंध में चर्चा कर इससे जुड़े महत्वपूर्ण सुझाव दिए। पांचवी अनुसूची के क्षेत्रों के लिए विशेष प्रावधानों की जानकारी देते हुए उन्होंने विशेष पिछड़ी जनजातियों को शासकीय योजनाओं का पूरा लाभ मिले, यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि पेंशन का भुगतान समय पर हो तथा योजना का लाभ समस्त हितग्राहियों को समय पर मिले।

रेणुका सिंह ने प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी एवं ग्रामीण के अंतर्गत स्वीकृत

रेणुका सिंह ने प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी एवं ग्रामीण के अंतर्गत स्वीकृत तथा पूर्ण हो चुके आवासों की संख्यात्मक जानकारी ली। प्रधानमंत्री आवास योजना के अधिकारियांे ने उन्हें बताया कि 2020-21 के लिए 4 हजार आवास निर्माण का लक्ष्य मिला है, उसके लिए कार्यवाही जारी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए सरपंचों एवं पंचों को जिम्मेदारी देकर माॅनिटरिंग कराई जाये ताकि गुणवत्तापूर्ण कार्य होने के साथ ही पात्र हितग्राहियों को उसका लाभ मिले। स्वच्छ भारत मिशन की समीक्षा करते हुए उन्होंने खुले में शौच मुक्त होने के तिथि की जानकारी ली तथा व्यक्तिगत शौचालय निर्माण के संबंध में प्राप्त शिकायतों पर गंभीरता के साथ कार्यवाही करने को कहा।

रेणुका सिंह ने जल जीवन मिशन, रूर्बन मिशन, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई एवं फसल बीमा योजना, सर्व शिक्षा मिशन के संबंध में विभागीय अधिकारियों से महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चर्चा की। स्कूल बंद होने के कारण शिक्षा की वैकल्पिक व्यवस्था, गणवेश वितरण, छात्रवृत्ति का भुगतान का आॅनलाईन हो रहा है या नहीं, इस संबंध में विभागीय अधिकारियों से जानकारी ली।

एकीकृत बाल विकास योजना की समीक्षा

एकीकृत बाल विकास योजना की समीक्षा करते हुुए केन्द्रीय मंत्री ने आंगनबाड़ी भवनों की जानकारी, कार्यकर्ता एवं सहायिकाओं के रिक्त पद, आंगनबाड़ी केन्द्रों मे रंग-रोगन, पूरक पोषण आहार का वितरण, एनीमिक महिलाओं एवं कुपोषित बच्चों की जानकारी ली। उन्होंने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के अंतर्गत हितग्राहियों के संख्या की जानकारी लेते हुए सभी पात्र परिवारों को इससे लाभान्वित करने को कहा।

कोविड-19 के कारण प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत दिये जा रहे अतिरिक्त राशन हितग्राहियों को मिल रहा है या नहीं, इसकी जानकारी ली। कोविड-19 के विषय में बात करते हुए जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से कोविड अस्पताल, आइसोलेशन सेन्टर, अब तक के किये गये कुल टेस्ट, वर्तमान पाॅजिटिव मरीजों की संख्या की जानकारी ली तथा कोविड से जुड़ी सुविधाओं में सतर्कता के साथ कार्य करने को कहा।

केन्द्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह ने अंत में जिले के विकास के लिए सभी अधिकारी को समर्पित भाव से कार्य करने को कहा। बैठक में उपस्थित क्षेत्रीय विधायक बृहस्पत सिंह ने भी लोक हितैषी योजनाओं के क्रियान्वयन में गंभीरता के साथ कार्य करने को कहा। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों एवं प्रशासन के समन्वित प्रयास से ही जिले का उत्तरोतर विकास होगा, हम सभी को इस दिशा में प्रयास करने की आवश्यकता है।

इस अवसर पर दिशा समिति के नामित सदस्य, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, जिला स्तरीय अधिकारी सहित जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button