छत्तीसगढ़

राष्ट्रीय सेवा योजना की विश्वविद्यालय स्तरीय कार्यशाला संपन्न

- रोशन सोनी

अम्बिकापुर : भारत सरकार युवा कार्य मंत्रालय एवं छत्तीसगढ़ शासन उच्च शिक्षा विभाग द्वारा संचालित राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारियों की एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला सरगुजा विश्वविद्यालय प्रशासनिक भवन परिसर के पंडित दीनदयाल उपाध्याय सभा कक्ष में आयोजित की गई।

इस प्रशिक्षण कार्यशाला का उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता करते हुए सरगुजा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं विश्वविद्यालय एनएसएस के संरक्षक प्रोफेसर रोहिणी प्रसाद ने कहा कि देश की विशाल युवा शक्ति के सकारात्मक ऊर्जा एवं संगठित प्रयासों से राष्ट्र का विकास सुगम होगा। एनएसएस के माध्यम से युवा समाज में सेवाभावी कार्यों में 100 भाग तक करते हुए स्वयं व्यक्तित्व का विकास,चरित्र निर्माण,राष्ट्र सेवा व अनुशासन,इसके साथ~साथ नेतृत्व क्षमता एवं श्रमदान जैसे श्रेष्ठ नागरिक गुणों का विकास सहज करते हैं।

कार्यक्रम अधिकारी के लिए यह प्रशिक्षण इसलिए भी आवश्यक है कि एनएसएस का दायरा एवं काम करने का क्षेत्र लगातार विस्तृत होता जा रहा है। मुख्य अतिथि एवं राज्य राष्ट्रीय सेवा अधिकारी व उप सचिव छत्तीसगढ़ शासन डॉ समरेन्द्र सिंह ने एनएसएस के कार्यक्रम अधिकारियों के दायित्व एवं सतत नवाचार को प्रोत्साहन देने की बात कही केंद्र सरकार तथा राज्य सरकार की लोकहितकारी कार्यों की क्रियान्वयन के लिए एनएसएस एक सक्रिय संगठन है।

इस कार्यक्रम में अधिकारियों को सूचना तकनीकी से पूर्णता लैस रहना आज की आवश्यकता है। इस अवसर पर युवा कार्य मंत्रालय क्षेत्रीय निर्देशालय भोपाल के.डी. डी. चौधरी ने भी संबोधित किया।

इस कार्यक्रम में कुलसचिव विनोद एक्का ने एनएसएस तत्वाधान में सरगुजा विश्वविद्यालय में एक राज्य स्तरीय सांस्कृतिक शिविर आयोजित किए जाने का प्रस्ताव रखा।

इस कार्यक्रम के प्रारंभ में मां सरस्वती एवं युवा चेतना के प्रतीक स्वामी विवेकानंद के फोटो चित्र पर समस्त अतिथियों ने माल्यार्पण कर पूजन कार्य किए। तथा स्वागत भाषण देते हुए कार्यक्रम समन्वयक डा.अनिल सिन्हा ने सरगुजा संभाग के 165 रासेयो इकाइयों द्वारा गत वर्ष एक्टिव रूप से कार्य करने के लिए सभी कार्यक्रम अधिकारियों को बधाई दी।

उन्होंने कहा कि एनएसएस यदि आज लोकप्रिय हो रहा है उसके लिए कार्यक्रम अधिकारियों की सूझबूझ तथा समाज सेवा के प्रति समर्पण का भाव है यह कार्यशाला उनके लिए एनएसएस से संबंधित समाचारों को समझने में सहायक होगा।

इस अवसर पर विषय विशेषज्ञ के रूप में कोरिया जिले के जिला संगठन प्रोफेसर एम.सी. हिमधर सरगुजा जिले के डॉ एस.एन. पांडेय, बलरामपुर जिले के प्रोफेसर एन.के. देवांगन ने रासेयो की विभिन्न आयामों को अपने तकनीकी सत्रों में व्याख्यान दिए।

इस कार्यशाला के उद्घाटन सत्र में अतिथियों द्वारा सत्र 2017- 18 में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 7 कार्यक्रम अधिकारी एवं 10 स्वयंसेवक छात्र~छात्राओं को प्रमाण पत्र एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित भी किया है।
इस कार्यशाला में डॉ.रोहित बरगाह,विनितेश गुप्ता कार्यक्रम अधिकारियो ने अनुशासन एवं व्यवस्था की जिम्मेदारी भी निभाई तथा ज्ञापन डॉ एस एन पांडे जिला संगठन सरगुजा ने दी।

Back to top button