अनलॉक- 4 के तहत तमाम तरह की गतिविधियों की दे दी गई छूट

छत्तीसगढ़ में लगातार कोरोना संक्रमण बढ़ता जा रहा

नई दिल्ली: 1 सितंबर से देश में अनलॉक का चौथा चरण शुरू हो गया है. गृह मंत्रालय ने अनलॉक 4 को लेकर गाइडलाइन जारी की थी, अनलॉक 4 के तहत कहा जा सकता है कि देश में कुछ संस्थानों और सेक्टर को छोड़कर बाकी चीजें सामान्य हो रही हैं. चौथे चरण के इस अनलॉक में कई छूट दिए गए हैं. हां, लेकिन कंटेनमेंट ज़ोन्स के लिए अभी 30 सितंबर तक सख्त नियम रहेंगे.

अनलॉक- 4 चल रहा है. जिसके तहत तमाम तरह की गतिविधियों की छूट दे दी गई है. अनलॉक- 4 भी कई चरणों का रहा. एक सितंबर से लागू हुए अनलॉक- 4 में 7 सितंबर से जहां मेट्रो सेवा शुरू होने की छूट मिली थी तो वहीं अब आज से कुछ और रियायतें मिलने जा रही हैं.

देश के कुछ राज्यों में जहां आज से स्कुल-कॉलेज खुलने जा रहे हैं तो वहीं 20 जोड़ी क्लोन ट्रेनें भी रेल यात्रियों की सुविधा के लिए पटरियों पर दौड़ना शुरू करने जा रही हैं. इसी के साथ ही सबसे बड़ी राहत उन लोगों को मिलने वाली है जिसके यहां कोई कार्यक्रम आयोजित होने वाला होगा क्योंकि आज से तमाम तरह के कार्यक्रमों में लोगों के शामिल होने की सीमा बढ़ाकर 100 कर दी गई है.

अब इन कार्यक्रमों में भाग ले सकेंगे 100 लोग

केंद्र सरकार की तरफ से जारी की गई गाइडलाइन में कहा गया था कि सामाजिक/शैक्षणिक/खेल/मनोरंजन/सांस्कृतिक/धार्मिक/राजनीतिक समारोह और अन्य मंडली को 100 व्यक्तियों की अधिकतम क्षमता के साथ 21 सितंबर से अनुमति दी जाएगी. यानी अब किसी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए ज्यादा लोगों को अनुमति होगी. अभी तक यह अनुमति महज 50 लोगों की थी जिस वजह से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ रहा था.

आज से चलेंगी 20 जोड़ी क्लोन ट्रेनें

इंडियन रेलवे आज से कुछ खास रूट्स पर 20 जोड़ी क्लोन ट्रेनें चलाने जा रही है. रेल मंत्रालय के मुताबिक ये ट्रेनें श्रमिक स्पेशल और स्पेशल ट्रेनों के अतिरिक्त होंगी. क्लोन ट्रेनें यूपी, बिहार, दिल्ली, पंजाब समेत कई राज्यों के बीच चलेंगी. जिन स्टेशनों के लिए ज्यादा यात्री हैं, वहां ट्रेनों के फेरे बढ़ाने के लिए ये क्लोन ट्रेनें चलेंगी.

कुछ राज्यों स्कूल खुलने जा रहे हैं

21 सितंबर से देश के कई राज्यों में स्कूल-कॉलेज खुलने जा रहे हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्कूलों में बच्चों की हेल्थ को लेकर गाइडलाइंस की घोषणा कर दी है. केंद्र सरकार ने 9वीं से 12वीं क्लास तक के बच्चों के लिए 21 सितंबर से स्कूल-कॉलेज खोलने की अनुमति दी थी, लेकिन यूपी में कोरोना के हालात को देखते हुए फिलहाल ऐसा करने से रोक लगा दी गई है. लेकिन कुछ राज्यों में स्कूलों को खोलने की अनुमति शासन की तरफ से दी जा चुकी है.

बता दें कि केंद्र सरकार ने अनलॉक- 4 की गाइडलाइंस में कहा था कि कंटेनमेंट जोन को छोड़कर 9वीं से 12वीं कक्षा के छात्रों को स्कूल विजिट की अनुमति होगी. राज्य चाहें तो 50 प्रतिशत टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ को स्कूल आने के लिए कह सकते हैं. अनलॉक- 4 की गाइडलाइन में यह भी कहा गया था कि अभिभावकों से लिखित अनुमति के बाद ही नौवीं से लेकर बारहवीं कक्षा तक के छात्र स्कूल जा सकेंगे.

आगरा किला और ताजमहल पर्यटकों के लिए खुलेंगे

आगरा का किला और ताजमहल सोमवार से पर्यटकों के लिए फिर से खुल जाएंगे. हालांकि एंट्री के दौरान पर्यटकों को मास्क के साथ सोशल डिस्टेंसिंग सहित अन्य नियमों का पालन करना होगा. बता दें कि कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग ने ताजमहल को 17 मार्च से बंद कर दिया था. अब 21 सितंबर, सोमवार से ताजमहल को खोलने का निर्णय लिया गया है. यानी कुल 188 दिन बाद ताजमहल फिर से खोला जा रहा है.

छत्तीसगढ़ में एक हफ्ते का लॉकडाउन

छत्तीसगढ़ में लगातार कोरोना संक्रमण बढ़ता जा रहा है. सबसे अधिक मामले रायपुर से आ रहे हैं. इसी वजह से वहां एक बार फिर लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया गया है. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर समेत कई प्रमुख शहरों में एक बार फिर 21 सितंबर की रात 9:00 बजे से 28 सितंबर की रात 12:00 बजे तक पूर्ण लॉकडाउन रहेगा.

जानकारी के मुताबिक जिला प्रशासन ने रायपुर को पूर्ण कंटेंटमेंट जोन घोषित कर दिया है. लॉकडाउन के दौरान सिर्फ दूध, मेडिकल और पेट्रोल पंप को निर्धारित समय तक खोलने की अनुमति होगी.

अनलॉक- 4 में मिली थीं ये रियायतें

यहां आपको बता दें कि सरकार द्वारा अनलॉक- 4 को लेकर जो आदेश जारी हुआ था उसमें कहा गया था कि कंटेनमेंट जोने के बाहर सभी गतिविधियों की अनुमति होगी, लेकिन अभी सिनेमा हॉल, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थेयटर, इंटरनेशनल हवाई यात्रा पर पाबंदी रहेगी. आदेश में यह भी स्पष्ट किया गया है कि व्यक्तियों और वस्तुओं के इंटर स्टेट और इंट्रा स्टेट मूवमेंट पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा. इस तरह के मूवमेंट के लिए कोई अलग से अनुमति/अनुमोदन/ई-परमिट की आवश्यकता नहीं होगी.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button